Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 May 2023 · 1 min read

■ कामयाबी का नुस्खा…

■ कामयाबी का नुस्खा…
भारतीय राजनीति में “जलवे” का असली हक़दार वही बनता है, जिसे आका के “तलवे” और बादाम के “हलवे” के स्वाद में कोई फ़र्क़ न लगे। कुल मिलाकर वही गीत- “चाटो, चाटो, चाटो, चाटो, चाटो…।।”
★प्रणय प्रभात★

1 Like · 305 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मेरा प्यार तुझको अपनाना पड़ेगा
मेरा प्यार तुझको अपनाना पड़ेगा
gurudeenverma198
💐अज्ञात के प्रति-108💐
💐अज्ञात के प्रति-108💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
लतिका
लतिका
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जीवन की विषम परिस्थितियों
जीवन की विषम परिस्थितियों
Dr.Rashmi Mishra
हर तीखे मोड़ पर मन में एक सुगबुगाहट सी होती है। न जाने क्यों
हर तीखे मोड़ पर मन में एक सुगबुगाहट सी होती है। न जाने क्यों
Guru Mishra
My City
My City
Aman Kumar Holy
*कभी अच्छाई पाओगे, मिलेगी कुछ बुराई भी 【मुक्तक 】*
*कभी अच्छाई पाओगे, मिलेगी कुछ बुराई भी 【मुक्तक 】*
Ravi Prakash
एक चाय तो पी जाओ
एक चाय तो पी जाओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
फक़त हर पल दूसरों को ही,
फक़त हर पल दूसरों को ही,
Mr.Aksharjeet
जून की दोपहर (कविता)
जून की दोपहर (कविता)
Kanchan Khanna
■ और क्या चाहिए...?
■ और क्या चाहिए...?
*Author प्रणय प्रभात*
हिन्दी दोहा बिषय-चरित्र
हिन्दी दोहा बिषय-चरित्र
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
‘ विरोधरस ‘---11. || विरोध-रस का आलंबनगत संचारी भाव || +रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---11. || विरोध-रस का आलंबनगत संचारी भाव || +रमेशराज
कवि रमेशराज
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – भातृ वध – 05
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – भातृ वध – 05
Kirti Aphale
कर्म कभी माफ नहीं करता
कर्म कभी माफ नहीं करता
नूरफातिमा खातून नूरी
भारत का चाँद…
भारत का चाँद…
Anand Kumar
आओ बैठो पियो पानी🌿🇮🇳🌷
आओ बैठो पियो पानी🌿🇮🇳🌷
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
@ranjeetkrshukla
@ranjeetkrshukla
Ranjeet Kumar Shukla
धन बल पर्याय
धन बल पर्याय
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
" ज़ेल नईखे सरल "
Chunnu Lal Gupta
सच तो तेरा मेरा प्यार हैं।
सच तो तेरा मेरा प्यार हैं।
Neeraj Agarwal
मेरी आंखों में कोई
मेरी आंखों में कोई
Dr fauzia Naseem shad
"एहसानों के बोझ में कुछ यूं दबी है ज़िंदगी
दुष्यन्त 'बाबा'
प्रणय 7
प्रणय 7
Ankita Patel
*कंचन काया की कब दावत होगी*
*कंचन काया की कब दावत होगी*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
🙏❌जानवरों को मत खाओ !❌🙏
🙏❌जानवरों को मत खाओ !❌🙏
Srishty Bansal
🙏🙏श्री गणेश वंदना🙏🙏
🙏🙏श्री गणेश वंदना🙏🙏
umesh mehra
माँ तेरे चरणों
माँ तेरे चरणों
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"अहमियत"
Dr. Kishan tandon kranti
** फितरत **
** फितरत **
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
Loading...