Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Oct 2023 · 1 min read

শহরের মেঘ শহরেই মরে যায়

শহরের মেঘ শহরেই মরে যায়
বৃষ্টির আদলে মানুষ মরে হায় হায়!
অন্ধকার রিক্সায় মৃত আত্মার আতর্নাদ,
কোথায় পালাবে পাখির দল?
আকাশ যে অট্টালিকায় বন্দি!

প্রেমিকার লোভে প্রেম কে ত্যাগ,
আমার নামে কবরের নাম!
পরিচিত মানুষের অচেনা মুখ,
মানুষ,
তুমি বড্ড অভিমানী।

– নরকীট

128 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2722.*पूर्णिका*
2722.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
💐प्रेम कौतुक-433💐
💐प्रेम कौतुक-433💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"इस रोड के जैसे ही _
Rajesh vyas
अनन्त तक चलना होगा...!!!!
अनन्त तक चलना होगा...!!!!
Jyoti Khari
सिंदूर की एक चुटकी
सिंदूर की एक चुटकी
डी. के. निवातिया
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
लालटेन-छाप
लालटेन-छाप
*Author प्रणय प्रभात*
(((((((((((((तुम्हारी गजल))))))
(((((((((((((तुम्हारी गजल))))))
Rituraj shivem verma
रमेशराज के कहमुकरी संरचना में चार मुक्तक
रमेशराज के कहमुकरी संरचना में चार मुक्तक
कवि रमेशराज
"स्मार्ट कौन?"
Dr. Kishan tandon kranti
🌹जिन्दगी के पहलू 🌹
🌹जिन्दगी के पहलू 🌹
Dr Shweta sood
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
Dr MusafiR BaithA
संजय सनातन की कविता संग्रह गुल्लक
संजय सनातन की कविता संग्रह गुल्लक
Paras Nath Jha
भीगे-भीगे मौसम में.....!!
भीगे-भीगे मौसम में.....!!
Kanchan Khanna
मेरा एक छोटा सा सपना है ।
मेरा एक छोटा सा सपना है ।
PRATIK JANGID
रिश्तों का एहसास
रिश्तों का एहसास
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सफर या रास्ता
सफर या रास्ता
Manju Singh
The Earth Moves
The Earth Moves
Buddha Prakash
हमारा संघर्ष
हमारा संघर्ष
पूर्वार्थ
अपनी तो मोहब्बत की इतनी कहानी
अपनी तो मोहब्बत की इतनी कहानी
AVINASH (Avi...) MEHRA
चाहते हैं हम यह
चाहते हैं हम यह
gurudeenverma198
जो राम हमारे कण कण में थे उन पर बड़ा सवाल किया।
जो राम हमारे कण कण में थे उन पर बड़ा सवाल किया।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
Ahtesham Ahmad
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
Phool gufran
*वरमाला वधु हाथ में, मन में अति उल्लास (कुंडलियां)*
*वरमाला वधु हाथ में, मन में अति उल्लास (कुंडलियां)*
Ravi Prakash
स्थितिप्रज्ञ चिंतन
स्थितिप्रज्ञ चिंतन
Shyam Sundar Subramanian
Is ret bhari tufano me
Is ret bhari tufano me
Sakshi Tripathi
क्या मेरा
क्या मेरा
Dr fauzia Naseem shad
वो निरंतर चलता रहता है,
वो निरंतर चलता रहता है,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
Writing Challenge- धन (Money)
Writing Challenge- धन (Money)
Sahityapedia
Loading...