Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Feb 2024 · 1 min read

অরাজক সহিংসতা

অরাজক সহিংসতা
++++++++++++++++

+ ওটেরি সেলভাকুমার

যেহেতু বৃষ্টি হচ্ছে
ভেবেছিলাম বৃষ্টি
কারণ বৃষ্টি হয়নি
এখানকার বাতাস
নাচ
এই খেলা
সবসময়
গাছগুলি কেবল শেষ হয় এবং পড়ে যায়
এটাও কোনো আশীর্বাদ নয়।
এটা অভিশাপ নয়…
ঝড়ের বাতাস
অরাজক সহিংসতা
এখনকার জন্য
এখানেই শেষ
উদাহরণ
আমরা পরে দেখব…

@ Bengali

91 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ऐ मोनाल तूॅ आ
ऐ मोनाल तूॅ आ
Mohan Pandey
डोमिन ।
डोमिन ।
Acharya Rama Nand Mandal
रसीले आम
रसीले आम
नूरफातिमा खातून नूरी
"" *वाङमयं तप उच्यते* '"
सुनीलानंद महंत
हे🙏जगदीश्वर आ घरती पर🌹
हे🙏जगदीश्वर आ घरती पर🌹
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
बेबसी!
बेबसी!
कविता झा ‘गीत’
धरती को‌ हम स्वर्ग बनायें
धरती को‌ हम स्वर्ग बनायें
Chunnu Lal Gupta
"मातृत्व"
Dr. Kishan tandon kranti
घमंड की बीमारी बिलकुल शराब जैसी हैं
घमंड की बीमारी बिलकुल शराब जैसी हैं
शेखर सिंह
संघर्ष ,संघर्ष, संघर्ष करना!
संघर्ष ,संघर्ष, संघर्ष करना!
Buddha Prakash
ह्रदय
ह्रदय
Monika Verma
प्रभु रामलला , फिर मुस्काये!
प्रभु रामलला , फिर मुस्काये!
Kuldeep mishra (KD)
आदि ब्रह्म है राम
आदि ब्रह्म है राम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
इंद्रदेव की बेरुखी
इंद्रदेव की बेरुखी
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
समय संवाद को लिखकर कभी बदला नहीं करता
समय संवाद को लिखकर कभी बदला नहीं करता
Shweta Soni
यादों की सफ़र
यादों की सफ़र"
Dipak Kumar "Girja"
पुष्प और तितलियाँ
पुष्प और तितलियाँ
Ritu Asooja
मेरे हाथों से छूट गई वो नाजुक सी डोर,
मेरे हाथों से छूट गई वो नाजुक सी डोर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
23/189.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/189.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ज़िंदगी इतनी मुश्किल भी नहीं
ज़िंदगी इतनी मुश्किल भी नहीं
Dheerja Sharma
‘पितृ देवो भव’ कि स्मृति में दो शब्द.............
‘पितृ देवो भव’ कि स्मृति में दो शब्द.............
Awadhesh Kumar Singh
माँ आजा ना - आजा ना आंगन मेरी
माँ आजा ना - आजा ना आंगन मेरी
Basant Bhagawan Roy
राम से बड़ा राम का नाम
राम से बड़ा राम का नाम
Anil chobisa
मेरा दिल अंदर तक सहम गया..!!
मेरा दिल अंदर तक सहम गया..!!
Ravi Betulwala
कान में रखना
कान में रखना
Kanchan verma
बात तनिक ह हउवा जादा
बात तनिक ह हउवा जादा
Sarfaraz Ahmed Aasee
बारिश
बारिश
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
🙅आज का ज्ञान🙅
🙅आज का ज्ञान🙅
*प्रणय प्रभात*
सांवली हो इसलिए सुंदर हो
सांवली हो इसलिए सुंदर हो
Aman Kumar Holy
एक शख्स
एक शख्स
Pratibha Pandey
Loading...