Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Jul 2016 · 1 min read

ज़िन्दगी दुश्वार लेकिन प्यार कर

मुश्किलों को हौसलों से पार कर
ज़िन्दगी दुश्वार लेकिन प्यार कर

सामने होती मसाइल इक नयी
बैठ मत जा गर्दिशों से हार कर

बात दिल में जो दबी कह दे उसे
इश्क़ है उससे अगर इज़हार कर

नफरतों का बीज कोई बो रहा
दोस्तों से यूँ न तू तक़रार कर

ढूंढता दिल चन्द खुशियों की घड़ी
अब ग़मों पर खुद पलट कर वार कर

दूर मंज़िल हैं अभी रस्ता कठिन
ज़िन्दगी की राह को हमवार कर

अपने ख़्वाबों की निगहबानी करो
फायदा क्या ख़्वाहिशों को मार कर

है हमें लड़ना मुसलसल वक़्त से
हर घड़ी हासिल तज़ुर्बा यार कर

-हिमकर श्याम

1 Like · 8 Comments · 428 Views
You may also like:
तो क्या हुआ
Faza Saaz
दुल्हन
Kavita Chouhan
फहराये तिरंगा ।
Buddha Prakash
रक्तरंजन से रणभूमि नहीं, मनभूमि यहां थर्राती है, विषाक्त शब्दों...
Manisha Manjari
गज़ल
Krishna Tripathi
अख़बार में आ गएँ by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
ग़ज़ल & दिल की किताब में -राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
छल प्रपंच का जाल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
*भक्त प्रहलाद और नरसिंह भगवान के अवतार की कथा*
Ravi Prakash
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
समर
पीयूष धामी
जय जय तिरंगा
gurudeenverma198
शायरी
श्याम सिंह बिष्ट
शुभारम्भ है
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मैं बुद्ध के विरुद्ध न ही....
Satish Srijan
■ आज का अंदेशा
*Author प्रणय प्रभात*
खुद को ज़रा तुम
Dr fauzia Naseem shad
अंदाज़ जुदा होता है।
Taj Mohammad
प्यार
विशाल शुक्ल
जन्नत -ए - इश्क
Seema 'Tu hai na'
हसरतें थीं...
Dr. Meenakshi Sharma
तेरे दुःख दर्द कितने सुर्ख है l
अरविन्द व्यास
नियति
Anamika Singh
सिस्टर
shabina. Naaz
ये प्रवाह है नवोदित
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
" बेशकीमती थैला"
Dr Meenu Poonia
भगतसिंह कैसा ये तेरा पंजाब हो गया
Kaur Surinder
व्यावहारिक सत्य
Shyam Sundar Subramanian
प्रतियोगिता
krishan saini
आगी में दहेज के
Shekhar Chandra Mitra
Loading...