Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

ग़ज़ल (ये कल की बात है)

उनको तो हमसे प्यार है ये कल की बात है
कायम ये ऐतबार था ये कल की बात है

जब से मिली नज़र तो चलता नहीं है बस
मुझे दिल पर अख्तियार था ये कल की बात है

अब फूल भी खिलने लगा है निगाहों में
काँटों से मुझको प्यार था ये कल की बात है

अब जिनकी बेबफ़ाई के चर्चे हैं हर तरफ
बह पहले बफादार था ये कल की बात है

जिसने लगायी आग मेरे घर में आकर के
बह शख्श मेरा यार था ये कल की बात है

तन्हाईयों का गम ,जो मुझे दे दिया उन्होनें
बह मेरा गम बेशुमार था ये कल की बात है

मदन मोहन सक्सेना

116 Views
You may also like:
पत्थर के भगवान
Ashish Kumar
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी कविवर रूप किशोर गुप्ता...
Ravi Prakash
आईनें में सूरत।
Taj Mohammad
तुम्हीं हो पापा
Krishan Singh
कभी-कभी आते जीवन में...
डॉ.सीमा अग्रवाल
जिन्दगी का जमूरा
Anamika Singh
इस तरह
Dr fauzia Naseem shad
सच
अंजनीत निज्जर
नशामुक्ति (भोजपुरी लोकगीत)
संजीव शुक्ल 'सचिन'
नवाब तो छा गया ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
ईश्वरतत्वीय वरदान"पिता"
Archana Shukla "Abhidha"
नींद खो दी
Dr fauzia Naseem shad
✍️कुछ यादों के पन्ने✍️
"अशांत" शेखर
बेटियाँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
✍️✍️ए जिंदगी✍️✍️
"अशांत" शेखर
"दोस्त"
Lohit Tamta
✍️✍️गांधी✍️✍️
"अशांत" शेखर
वनवासी संसार
सूर्यकांत द्विवेदी
✍️पत्थर-दिल✍️
"अशांत" शेखर
मुक्तक(मंच)
Dr Archana Gupta
सर्वप्रिय श्री अख्तर अली खाँ
Ravi Prakash
अपनी भाषा
मनमोहन लाल गुप्ता अंजुम
💐💐प्रेम की राह पर-18💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"समय का पहिया"
Ajit Kumar "Karn"
माँ
सूर्यकांत द्विवेदी
जब बेटा पिता पे सवाल उठाता हैं
Nitu Sah
ताकि याद करें लोग हमारा प्यार
gurudeenverma198
✍️सूर्यज्वाळा✍️
"अशांत" शेखर
कातिल ना मिला।
Taj Mohammad
*सभी को चाँद है प्यारा ( मुक्तक)*
Ravi Prakash
Loading...