Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Mar 2024 · 1 min read

होली पर

उड़ता गुलाल, लाल, लाल अज गाल पर
हंसी ठिठोली अज, होली की फुहार पर

गली-गली शोर-होर, हर इक द्वार पर
बाल गोपाल ग्वाल, रंगों की बौछार पर

सरसों की पीत और, टेसू पलाश पर
छंद भेद ज्ञान नहीं , होली त्योहार पर

कनक चमक और गोबर के पाथ पर
कहना चाहूं मात्र अज, उड़ते से फाग पर

करने जुहारी आए, संग भंग भाव पर
बृज के बिहारी अज,आस रंग ताव पर

गुजिया की थारी, जब चरण पखारी पर
गले मिले हंस-हंस, ऐसी त्योहारी पर

पाँव धर शीश आज, मांगी गई माफी पर
सत्कार आदर की, न्यारी परिपाटी पर

सबको मंगल शुभ, होली की बोली पर
संस्कृति याद रहे, हल्ला की टोली पर

हाथ जोड़ परणाम सर्वशक्तिमान को
संस्कार याद रहे, भारत भू संतान को

Language: Hindi
3 Likes · 30 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr.Pratibha Prakash
View all
You may also like:
अवावील की तरह
अवावील की तरह
abhishek rajak
हंस के 2019 वर्ष-अंत में आए दलित विशेषांकों का एक मुआयना / musafir baitha
हंस के 2019 वर्ष-अंत में आए दलित विशेषांकों का एक मुआयना / musafir baitha
Dr MusafiR BaithA
"" *श्री गीता है एक महाकाव्य* ""
सुनीलानंद महंत
शिवोहं
शिवोहं
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
*ऐसा स्वदेश है मेरा*
*ऐसा स्वदेश है मेरा*
Harminder Kaur
जय अयोध्या धाम की
जय अयोध्या धाम की
Arvind trivedi
मिस्टर चंदा (बाल कविता)
मिस्टर चंदा (बाल कविता)
Ravi Prakash
"वो लॉक डाउन"
Dr. Kishan tandon kranti
दर्द भी
दर्द भी
Dr fauzia Naseem shad
केशव तेरी दरश निहारी ,मन मयूरा बन नाचे
केशव तेरी दरश निहारी ,मन मयूरा बन नाचे
पं अंजू पांडेय अश्रु
खून पसीने में हो कर तर बैठ गया
खून पसीने में हो कर तर बैठ गया
अरशद रसूल बदायूंनी
पिता
पिता
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
जीना सीखा
जीना सीखा
VINOD CHAUHAN
माँ भारती के वरदपुत्र: नरेन्द्र मोदी
माँ भारती के वरदपुत्र: नरेन्द्र मोदी
Dr. Upasana Pandey
*कविताओं से यह मत पूछो*
*कविताओं से यह मत पूछो*
Dr. Priya Gupta
14--- 🌸अस्तित्व का संकट 🌸
14--- 🌸अस्तित्व का संकट 🌸
Mahima shukla
Love Night
Love Night
Bidyadhar Mantry
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
जीवन में संघर्ष सक्त है।
जीवन में संघर्ष सक्त है।
Omee Bhargava
हिंदी का आनंद लीजिए __
हिंदी का आनंद लीजिए __
Manu Vashistha
बालको से पग पग पर अपराध होते ही रहते हैं।उन्हें केवल माता के
बालको से पग पग पर अपराध होते ही रहते हैं।उन्हें केवल माता के
Shashi kala vyas
कोरोना चालीसा
कोरोना चालीसा
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
Tu wakt hai ya koi khab mera
Tu wakt hai ya koi khab mera
Sakshi Tripathi
"राबता" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
अकाल काल नहीं करेगा भक्षण!
अकाल काल नहीं करेगा भक्षण!
Neelam Sharma
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
हम समुंदर का है तेज, वह झरनों का निर्मल स्वर है
Shubham Pandey (S P)
भगवान बचाए ऐसे लोगों से। जो लूटते हैं रिश्तों के नाम पर।
भगवान बचाए ऐसे लोगों से। जो लूटते हैं रिश्तों के नाम पर।
*Author प्रणय प्रभात*
*दोस्त*
*दोस्त*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मछली कब पीती है पानी,
मछली कब पीती है पानी,
महेश चन्द्र त्रिपाठी
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...