Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jul 2016 · 1 min read

हे ! मेरे फेसबुक …………

फेसबुक ने मुझे नई
ज़िंदगी दी जीने की
एक वजह दी,
प्यार भी हुआ तो
फेसबुक पर ही
धोखा मिला
फेसबुक से ही
अपने बने कुछ
इसी फेसबुक से
कुछ दूर भी हो गए
इसी फेसबुक से
आज पहचान है कुछ
तो फेसबुक से ही
मुस्कुराता हूँ कभी
इसी फेसबुक से
हँसता हूँ कभी तो
कभी दुःख भी व्यक्त करता हूँ
इसी फेसबुक से
क्या क्या न दिया
इस फेसबुक ने
खोया हुआ इंसान भी मिला
दिया इस फेसबुक ने
आप भी साथ हो मेरे मगर
इसी फेसबुक पे !
हम सभी दूर हैं
एक दूसरे से
तो क्या हुआ एहसास
तो ज़िंदा है
इसी फेसबुक से
कुछ नया हुआ
तो पता चला इसी
फेसबुक से
कोई चला भी गया
वो भी जान पाया
इसी फसेबुक से
कुछ विचित्र सी बातें
जान सका इसी
फेसबुक से
दुनिया को पहचान रहा हूँ
इसी फेसबुक से
ज़ुकरबर्ग का तो पता नहीं
बस मौज उड़ा रहे हैं सब
इसी फेसबुक पे
सब बैठे हैं सामने
मगर मस्त हैं सब
इसी फेसबुक पे
कोई ठहासे लगा रहा
तो किसी की आँखें नम हैं
इसी फेसबुक से
कोई परेशान हैं
लाइक न मिलने से तो
कोई कॉपी पेस्ट में
व्यस्त है खुद की ख़ुशी के लिए
हे ! मेरे फेसबुक,हे ! मेरे फेसबुक
________________________________बृज

Language: Hindi
Tag: लेख
2 Likes · 8 Comments · 526 Views
You may also like:
भारतीय सभ्यता की दुर्लब प्राचीन विशेषताएं ।
Mani Kumar Kachi
दुनिया की रीति
AMRESH KUMAR VERMA
चमचागिरी
सूर्यकांत द्विवेदी
मर्द को भी दर्द होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मुकरिया__ चाय आसाम वाली
Manu Vashistha
होली का संदेश
Anamika Singh
बेकाबू हुआ है ये दिल तड़पने लगी हूं
Ram Krishan Rastogi
दुविधा
Shyam Sundar Subramanian
पीड़ादायक होता है
Abhishek Pandey Abhi
सच्ची दीवाली
rkchaudhary2012
गर्दिशे दौरा को गुजर जाने दे
shabina. Naaz
घड़ी
Utsav Kumar Aarya
फ़ासला
मनोज कर्ण
तमाशाई बन गए हैं।
Taj Mohammad
तुमसे बिछड़ के दिल को ठिकाना नहीं मिला
Dr Archana Gupta
आईना हम कहाँ
Dr fauzia Naseem shad
गज़ल सी रचना
Kanchan Khanna
घिसी चप्पल
N.ksahu0007@writer
शादी से पहले और शादी के बाद
gurudeenverma198
मूर्दों की बस्ती
Shekhar Chandra Mitra
बाल कहानी- चतुर और स्वार्थी लोमड़ी
SHAMA PARVEEN
ममत्व की माँ
Raju Gajbhiye
🍀🌺मैंने हर जगह ज़िक्र किया है तुम्हारा🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता
Manisha Manjari
बारहमासी समस्या
Aditya Prakash
!!!! मेरे शिक्षक !!!
जगदीश लववंशी
मन संसार
Buddha Prakash
जुल्म की इन्तहा
DESH RAJ
*भूरी चिड़िया-काला कौवा (गीत)*
Ravi Prakash
"मेरा मन"
Dr Meenu Poonia
Loading...