Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Sep 2022 · 1 min read

हादसा जब कोई

टूट जाती हैं फिर दिल की सारी उम्मीदें ।
हादसा जब कोई रूह को ज़ख्मी करता है।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
8 Likes · 130 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
आंख में बेबस आंसू
आंख में बेबस आंसू
Dr. Rajeev Jain
इल्ज़ाम ना दे रहे हैं।
इल्ज़ाम ना दे रहे हैं।
Taj Mohammad
बैठ गए
बैठ गए
विजय कुमार नामदेव
"अपेक्षा"
Yogendra Chaturwedi
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
*मधु मालती*
*मधु मालती*
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
* राह चुनने का समय *
* राह चुनने का समय *
surenderpal vaidya
Humans and Animals - When When and When? - Desert fellow Rakesh Yadav
Humans and Animals - When When and When? - Desert fellow Rakesh Yadav
Desert fellow Rakesh
पतझड़ के मौसम हो तो पेड़ों को संभलना पड़ता है
पतझड़ के मौसम हो तो पेड़ों को संभलना पड़ता है
कवि दीपक बवेजा
बाल वीर दिवस
बाल वीर दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
साहित्यकार ओमप्रकाश वाल्मीकि का परिचय।
साहित्यकार ओमप्रकाश वाल्मीकि का परिचय।
Dr. Narendra Valmiki
"साम","दाम","दंड" व् “भेद" की व्यथा
Dr. Harvinder Singh Bakshi
कुछ एक आशू, कुछ एक आखों में होगा,
कुछ एक आशू, कुछ एक आखों में होगा,
goutam shaw
सोचो
सोचो
Dinesh Kumar Gangwar
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
#लघुकविता-
#लघुकविता-
*Author प्रणय प्रभात*
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
ruby kumari
"ताले चाबी सा रखो,
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
💐प्रेम कौतुक-563💐
💐प्रेम कौतुक-563💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जिंदगी,
जिंदगी,
हिमांशु Kulshrestha
फूल और कांटे
फूल और कांटे
अखिलेश 'अखिल'
*जलयान (बाल कविता)*
*जलयान (बाल कविता)*
Ravi Prakash
* तुगलकी फरमान*
* तुगलकी फरमान*
Dushyant Kumar
लोकतंत्र में भी बहुजनों की अभिव्यक्ति की आजादी पर पहरा / डा. मुसाफ़िर बैठा
लोकतंत्र में भी बहुजनों की अभिव्यक्ति की आजादी पर पहरा / डा. मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
परवरिश
परवरिश
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"यादों के बस्तर"
Dr. Kishan tandon kranti
वो राह देखती होगी
वो राह देखती होगी
Kavita Chouhan
जय श्रीकृष्ण । ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः ।
जय श्रीकृष्ण । ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः ।
Raju Gajbhiye
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आग़ाज़
आग़ाज़
Shyam Sundar Subramanian
Loading...