Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Apr 2023 · 1 min read

हमें उम्र ने नहीं हालात ने बड़ा किया है।

हमें उम्र ने नहीं हालात ने बड़ा किया है।
हमने खुद को अपने पैरों पे खड़ा किया।।

(C) कवि देवेन्द्र शर्मा

1 Like · 363 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बह्र 2122 1122 1122 22 अरकान-फ़ाईलातुन फ़यलातुन फ़यलातुन फ़ेलुन काफ़िया - अर रदीफ़ - की ख़ुशबू
बह्र 2122 1122 1122 22 अरकान-फ़ाईलातुन फ़यलातुन फ़यलातुन फ़ेलुन काफ़िया - अर रदीफ़ - की ख़ुशबू
Neelam Sharma
शब्दों की अहमियत को कम मत आंकिये साहिब....
शब्दों की अहमियत को कम मत आंकिये साहिब....
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
हे भगवान तुम इन औरतों को  ना जाने किस मिट्टी का बनाया है,
हे भगवान तुम इन औरतों को ना जाने किस मिट्टी का बनाया है,
Dr. Man Mohan Krishna
এটা আনন্দ
এটা আনন্দ
Otteri Selvakumar
वसंत की बहार।
वसंत की बहार।
Anil Mishra Prahari
What is FAMILY?
What is FAMILY?
पूर्वार्थ
राममय जगत
राममय जगत
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
देश के संविधान का भी
देश के संविधान का भी
Dr fauzia Naseem shad
खुदा ने ये कैसा खेल रचाया है ,
खुदा ने ये कैसा खेल रचाया है ,
Sukoon
हिंदी दिवस
हिंदी दिवस
Shashi Dhar Kumar
जमाने की अगर कह दूँ, जमाना रूठ जाएगा ।
जमाने की अगर कह दूँ, जमाना रूठ जाएगा ।
Ashok deep
नन्ही परी
नन्ही परी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
आजकल का प्राणी कितना विचित्र है,
आजकल का प्राणी कितना विचित्र है,
Divya kumari
शेखर सिंह
शेखर सिंह
शेखर सिंह
पहले मैं इतना कमजोर था, कि ठीक से खड़ा भी नहीं हो पाता था।
पहले मैं इतना कमजोर था, कि ठीक से खड़ा भी नहीं हो पाता था।
SPK Sachin Lodhi
🌹मेरी इश्क सल्तनत 🌹
🌹मेरी इश्क सल्तनत 🌹
साहित्य गौरव
Touch the Earth,
Touch the Earth,
Dhriti Mishra
मुस्कुराहट से बड़ी कोई भी चेहरे की सौंदर्यता नही।
मुस्कुराहट से बड़ी कोई भी चेहरे की सौंदर्यता नही।
Rj Anand Prajapati
विकल्प
विकल्प
Dr.Priya Soni Khare
भाग्य
भाग्य
Sarla Sarla Singh "Snigdha "
किस्मत की लकीरें
किस्मत की लकीरें
umesh mehra
भारत के बीर सपूत
भारत के बीर सपूत
Dinesh Kumar Gangwar
#मुक्तक-
#मुक्तक-
*Author प्रणय प्रभात*
जो हमने पूछा कि...
जो हमने पूछा कि...
Anis Shah
"वो दिन दूर नहीं"
Dr. Kishan tandon kranti
बुद्ध पूर्णिमा विशेष:
बुद्ध पूर्णिमा विशेष:
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
💜सपना हावय मोरो💜
💜सपना हावय मोरो💜
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
तेरे पास आए माँ तेरे पास आए
तेरे पास आए माँ तेरे पास आए
Basant Bhagawan Roy
दोहे. . . . जीवन
दोहे. . . . जीवन
sushil sarna
जाओ कविता जाओ सूरज की सविता
जाओ कविता जाओ सूरज की सविता
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...