Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Feb 2024 · 1 min read

स्मार्ट फोन.: एक कातिल

हां जी ! यह तो होगा ही स्मार्ट ,
जब इसने छीन ही लिए सबके काज ।
बेकार हो गई वो सभी चीजें ,
आड़े बन करवरग गई जो आज ।
वो कलाई घड़ी ,जिसमें समय देखते थे ,
बदलते फैशन के साथ जिनका बदला अंदाज ।
वो अनेकों म्यूजिक सिस्टम कहां गए ,
हर पल बिखेरते थे साज और आवाज ।
वो टेप रिकॉर्डर ,रेडियों ,ट्रांजिस्टर ,रिवॉर्ड प्लेयर ,
वगेरह जाने कहां खो गए आज ।
वो कैमरे ,वो कैलकुलेटर, टीवी , pc, ,
घर की शान लैंड लाइन वाला टेली फोन ,
वो teligram , वो खत का जाना / मिलना ,
और वो शादियों / समारोहों के निमंत्रण पत्र ,
सब अतीत की गुमनाम गालियों में खो गए आज ।
और बहुत कुछ छीना ,परिवार का सुहाना साथ ,
पड़ोसीयों/ रिश्तेदारों / दोस्तों की खैर खबर ।
स्मार्ट तो है मगर है कातिल भी ।
प्रेम ,ममता ,करुणा ,भाईचारा ,सबकी हत्या कर दी ।
छीने सब वस्तुओं के काज ,
इंसानों की सेहद भी छीन ली ।
मासूम बच्चों का बचपन छीना ,
विद्यार्थी जीवन की शिक्षा के प्रति एकाग्रता छीन ली ।
इस स्मार्ट फोन ने जमाने की हर शय छीन ली ।
इस स्मार्ट फोन ने हजारों जिंदगियां भी छीन ली और अब भी छीन रहा है ।
यह कई खतरनाक हादसों को भी आजम देता है मगर फिर भी !!
अत्याधुनिक वस्तुओं का इस्तेमाल करना आवशक है ,
मगर उनका गुलाम बना है क्यों आज का समाज

Language: Hindi
1 Like · 142 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from ओनिका सेतिया 'अनु '
View all
You may also like:
मनुख
मनुख
श्रीहर्ष आचार्य
मदिरा वह धीमा जहर है जो केवल सेवन करने वाले को ही नहीं बल्कि
मदिरा वह धीमा जहर है जो केवल सेवन करने वाले को ही नहीं बल्कि
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
कौन गया किसको पता ,
कौन गया किसको पता ,
sushil sarna
1-अश्म पर यह तेरा नाम मैंने लिखा2- अश्म पर मेरा यह नाम तुमने लिखा (दो गीत) राधिका उवाच एवं कृष्ण उवाच
1-अश्म पर यह तेरा नाम मैंने लिखा2- अश्म पर मेरा यह नाम तुमने लिखा (दो गीत) राधिका उवाच एवं कृष्ण उवाच
Pt. Brajesh Kumar Nayak
जब कोई दिल से जाता है
जब कोई दिल से जाता है
Sangeeta Beniwal
गूढ़ बात~
गूढ़ बात~
दिनेश एल० "जैहिंद"
होली
होली
Dr Archana Gupta
शब्द शब्द उपकार तेरा ,शब्द बिना सब सून
शब्द शब्द उपकार तेरा ,शब्द बिना सब सून
Namrata Sona
*सीता जी : छह दोहे*
*सीता जी : छह दोहे*
Ravi Prakash
मैं तो महज बुनियाद हूँ
मैं तो महज बुनियाद हूँ
VINOD CHAUHAN
एक दिन तो कभी ऐसे हालात हो
एक दिन तो कभी ऐसे हालात हो
Johnny Ahmed 'क़ैस'
छोड़कर साथ हमसफ़र का,
छोड़कर साथ हमसफ़र का,
Gouri tiwari
23/165.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/165.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
सबला नारी
सबला नारी
आनन्द मिश्र
बाबा फरीद ! तेरे शहर में हम जबसे आए,
बाबा फरीद ! तेरे शहर में हम जबसे आए,
ओनिका सेतिया 'अनु '
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
प्यार का इम्तेहान
प्यार का इम्तेहान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
इसमें कोई दो राय नहीं है
इसमें कोई दो राय नहीं है
Dr fauzia Naseem shad
"उल्लास"
Dr. Kishan tandon kranti
निरंतर खूब चलना है
निरंतर खूब चलना है
surenderpal vaidya
💐प्रेम कौतुक-498💐
💐प्रेम कौतुक-498💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गज़ल सी कविता
गज़ल सी कविता
Kanchan Khanna
उम्मीद नहीं थी
उम्मीद नहीं थी
Surinder blackpen
हंसगति
हंसगति
डॉ.सीमा अग्रवाल
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मेरे छिनते घर
मेरे छिनते घर
Anjana banda
मैं चाँद पर गया
मैं चाँद पर गया
Satish Srijan
चैन से जिंदगी
चैन से जिंदगी
Basant Bhagawan Roy
हिंदी
हिंदी
Bodhisatva kastooriya
Loading...