Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Feb 2023 · 1 min read

सूरज उतरता देखकर कुंडी मत लगा लेना

सूरज उतरता देखकर कुंडी मत लगा लेना
मेरे मोन का गलत अंदाजा मत लगा लेना

कठिन रास्ते पर चल रहे हो चलते रहो..
तुम वैशाखीयों से सहारा मत लगा लेना !

✍कवि दीपक सरल

1 Like · 337 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बूढ़ा बापू
बूढ़ा बापू
Madhu Shah
मौसम का क्या मिजाज है मत पूछिए जनाब।
मौसम का क्या मिजाज है मत पूछिए जनाब।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
2497.पूर्णिका
2497.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
पुरूषो से निवेदन
पुरूषो से निवेदन
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मुक्तक
मुक्तक
कृष्णकांत गुर्जर
🌻 *गुरु चरणों की धूल* 🌻
🌻 *गुरु चरणों की धूल* 🌻
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
समझना है ज़रूरी
समझना है ज़रूरी
Dr fauzia Naseem shad
हिदायत
हिदायत
Bodhisatva kastooriya
काम ये करिए नित्य,
काम ये करिए नित्य,
Shweta Soni
दर्पण जब भी देखती खो जाती हूँ मैं।
दर्पण जब भी देखती खो जाती हूँ मैं।
लक्ष्मी सिंह
नारी तेरा रूप निराला
नारी तेरा रूप निराला
Anil chobisa
कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है चुपचाप सहने की भी
कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है चुपचाप सहने की भी
Rekha khichi
That poem
That poem
Bidyadhar Mantry
महावीर उत्तरांचली आप सभी के प्रिय कवि
महावीर उत्तरांचली आप सभी के प्रिय कवि
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
तू जो कहती प्यार से मैं खुशी खुशी कर जाता
तू जो कहती प्यार से मैं खुशी खुशी कर जाता
Kumar lalit
स्मृतियों की चिन्दियाँ
स्मृतियों की चिन्दियाँ
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
नारी कब होगी अत्याचारों से मुक्त?
नारी कब होगी अत्याचारों से मुक्त?
कवि रमेशराज
Ajj purani sadak se mulakat hui,
Ajj purani sadak se mulakat hui,
Sakshi Tripathi
शर्तों मे रह के इश्क़ करने से बेहतर है,
शर्तों मे रह के इश्क़ करने से बेहतर है,
पूर्वार्थ
जय माता दी ।
जय माता दी ।
Anil Mishra Prahari
आभा पंखी से बढ़ी ,
आभा पंखी से बढ़ी ,
Rashmi Sanjay
आपके पास धन इसलिए नहीं बढ़ रहा है क्योंकि आपकी व्यावसायिक पक
आपके पास धन इसलिए नहीं बढ़ रहा है क्योंकि आपकी व्यावसायिक पक
Rj Anand Prajapati
रोबोटयुगीन मनुष्य
रोबोटयुगीन मनुष्य
SURYA PRAKASH SHARMA
■ कड़वा सच...
■ कड़वा सच...
*प्रणय प्रभात*
*Loving Beyond Religion*
*Loving Beyond Religion*
Poonam Matia
*श्री हनुमंत चरित्र (कुंडलिया)*
*श्री हनुमंत चरित्र (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
गीत
गीत
सत्य कुमार प्रेमी
"सच और झूठ"
Dr. Kishan tandon kranti
जिंदगी की राह आसान नहीं थी....
जिंदगी की राह आसान नहीं थी....
Ashish shukla
Loading...