Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jan 2017 · 1 min read

सीमा के चौकस प्रहरी

सीमा के चौकस प्रहरी को, करना शतशत सभी नमन।
जिनके कारण हम करते है, विघ्न मुक्त होकर विचरण।।

पहने वर्दी खाकी वाली, वतन मेरा भगवान हुआ।
सोच हमेशा ऐसी रखते, जीवन का उन्वान हुआ।।
पलपल खतरा हरपल पहरा, ध्येय एक ही देश बचे।
देश पे जीना व मर जाना, ही जीवित उद्देश्य बचे।।
जान से प्यारी कहता है कि, मेरी धरती और गगन।।
सीमा के चौकस प्रहरी को, करना शतशत सभी नमन।1।

हिम्मतवाला वीर सिपाही, मस्ती में जब डोल गया।
करके देह वतन को अर्पित, भारत की जय बोल गया।।
इनको दे सम्मान जगत ये, देना ऐसी शिक्षा है।
इनकी हिम्मत अरु ताकत से, होती सबकी रक्षा है।।
मान मिले सम्मान मिले भी, सब मिल करना यही जतन।
सीमा के चौकस प्रहरी को, करना शतशत सभी नमन।2।

कट्टरपंथी की कट्टरता, को मिलकर देना टक्कर।
वीर शहीदों के गौरव को, हथियाना इनका चक्कर।।
दूर दूर से दूर दूर तक, दूर रहे सीमा से जो।
हाथों में बातों की बन्दुक, बस इनसे बातें कर लो।।
आज श्रेय लेने जो निकले, उनका करना आज शमन।
सीमा के चौकस प्रहरी को, करना शतशत सभी नमन।3।

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Like · 1 Comment · 298 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बुढ्ढे का सावन
बुढ्ढे का सावन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मनोहन
मनोहन
Seema gupta,Alwar
लोग आते हैं दिल के अंदर मसीहा बनकर
लोग आते हैं दिल के अंदर मसीहा बनकर
कवि दीपक बवेजा
तुम नहीं आये
तुम नहीं आये
Surinder blackpen
🌳😥प्रकृति की वेदना😥🌳
🌳😥प्रकृति की वेदना😥🌳
SPK Sachin Lodhi
सोचा होगा
सोचा होगा
संजय कुमार संजू
चरम सुख
चरम सुख
मनोज कर्ण
I sit at dark to bright up in the sky 😍 by sakshi
I sit at dark to bright up in the sky 😍 by sakshi
Sakshi Tripathi
भरी आँखे हमारी दर्द सारे कह रही हैं।
भरी आँखे हमारी दर्द सारे कह रही हैं।
शिल्पी सिंह बघेल
वक़्त आने पर, बेमुरव्वत निकले,
वक़्त आने पर, बेमुरव्वत निकले,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
"सपने"
Dr. Kishan tandon kranti
ज़िंदगी ने कहां
ज़िंदगी ने कहां
Dr fauzia Naseem shad
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
एक ख्वाब
एक ख्वाब
Ravi Maurya
जो ना होना था
जो ना होना था
shabina. Naaz
शंकर हुआ हूँ (ग़ज़ल)
शंकर हुआ हूँ (ग़ज़ल)
Rahul Smit
★अनमोल बादल की कहानी★
★अनमोल बादल की कहानी★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
#हास्यप्रद_जिज्ञासा
#हास्यप्रद_जिज्ञासा
*Author प्रणय प्रभात*
कितने कोमे जिंदगी ! ले अब पूर्ण विराम।
कितने कोमे जिंदगी ! ले अब पूर्ण विराम।
डॉ.सीमा अग्रवाल
दुकान में रहकर सीखा
दुकान में रहकर सीखा
Ms.Ankit Halke jha
दुखता बहुत है, जब कोई छोड़ के जाता है
दुखता बहुत है, जब कोई छोड़ के जाता है
Kumar lalit
सूरज दादा ड्यूटी पर
सूरज दादा ड्यूटी पर
डॉ. शिव लहरी
क़रार आये इन आँखों को तिरा दर्शन ज़रूरी है
क़रार आये इन आँखों को तिरा दर्शन ज़रूरी है
Sarfaraz Ahmed Aasee
माँ
माँ
Kavita Chouhan
यूँही तुम पर नहीं हम मर मिटे हैं
यूँही तुम पर नहीं हम मर मिटे हैं
Simmy Hasan
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गायें
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गायें
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तेरी हर ख़ुशी पहले, मेरे गम उसके बाद रहे,
तेरी हर ख़ुशी पहले, मेरे गम उसके बाद रहे,
डी. के. निवातिया
सर्द हवाओं का मौसम
सर्द हवाओं का मौसम
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कविता
कविता
Rambali Mishra
Loading...