Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Apr 2024 · 1 min read

सीख

समय
बहुत तेज घूमता है
इसलिए
अपने बल, धन, यश
और अपने सौंदर्य का
घमंड करें नहीं।

अकेले पैदा होते हैं
अकेले मरते हैं
तो किस्मत का
फैसला खुद करेंगे
कोई दूसरा करेगा नही।

खुश रहना है तो
जिंदगी के फैसले
परिस्थिती देख कर
जमाने को देखकर नही।

सुनो सबकी ध्यान से
काम की बात पकड़ो
करो वो जो दिल चाहे
दिमाग के हिसाब से नही।

खराब फल
अपने आप
दरख्त से गिर जाते हैं
बदला लेने की सोंच
कतई रखना नहीं।

अगर आपको
कोई अच्छा नही लगता
बुराई आप में है
अच्छाई उसमें दिखती नही।

अच्छे लोग तारीफ के
मोहताज नहीं होते
कि सच्चे फूलों पर
इत्र लगता नही।

सोंच समझ के
रूठा करो अपनों से
क्यों कि मनाने का
रिवाज अब है नही।

@ अश्वनी कुमार जायसवाल

Language: Hindi
55 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ashwani Kumar Jaiswal
View all
You may also like:
ऑंखों से सीखा हमने
ऑंखों से सीखा हमने
Harminder Kaur
डियर कामरेड्स
डियर कामरेड्स
Shekhar Chandra Mitra
बाबा साहब एक महान पुरुष या भगवान
बाबा साहब एक महान पुरुष या भगवान
जय लगन कुमार हैप्पी
दुनिया तेज़ चली या मुझमे ही कम रफ़्तार थी,
दुनिया तेज़ चली या मुझमे ही कम रफ़्तार थी,
गुप्तरत्न
क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (3)
क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (3)
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ଆମ ଘରର ଅଗଣା
ଆମ ଘରର ଅଗଣା
Bidyadhar Mantry
!! गुलशन के गुल !!
!! गुलशन के गुल !!
Chunnu Lal Gupta
एक अलग ही खुशी थी
एक अलग ही खुशी थी
Ankita Patel
हक़ीक़त पर रो दिया
हक़ीक़त पर रो दिया
Dr fauzia Naseem shad
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
Dushyant Kumar
मुक्तक - यूं ही कोई किसी को बुलाता है क्या।
मुक्तक - यूं ही कोई किसी को बुलाता है क्या।
सत्य कुमार प्रेमी
बाबा तेरा इस कदर उठाना ...
बाबा तेरा इस कदर उठाना ...
Sunil Suman
दो रुपए की चीज के लेते हैं हम बीस
दो रुपए की चीज के लेते हैं हम बीस
महेश चन्द्र त्रिपाठी
शिव हैं शोभायमान
शिव हैं शोभायमान
surenderpal vaidya
😢हे माँ माताजी😢
😢हे माँ माताजी😢
*Author प्रणय प्रभात*
Mathematics Introduction .
Mathematics Introduction .
Nishant prakhar
क्यों पढ़ा नहीं भूगोल?
क्यों पढ़ा नहीं भूगोल?
AJAY AMITABH SUMAN
"साकी"
Dr. Kishan tandon kranti
ऊपर बने रिश्ते
ऊपर बने रिश्ते
विजय कुमार अग्रवाल
जीवन है चलने का नाम
जीवन है चलने का नाम
Ram Krishan Rastogi
गम   तो    है
गम तो है
Anil Mishra Prahari
जब कोई साथ नहीं जाएगा
जब कोई साथ नहीं जाएगा
KAJAL NAGAR
जीवन के दिन चार थे, तीन हुआ बेकार।
जीवन के दिन चार थे, तीन हुआ बेकार।
Manoj Mahato
हम अरबी-फारसी के प्रचलित शब्दों को बिना नुक्ता लगाए प्रयोग क
हम अरबी-फारसी के प्रचलित शब्दों को बिना नुक्ता लगाए प्रयोग क
Ravi Prakash
रास्ते पर कांटे बिछे हो चाहे, अपनी मंजिल का पता हम जानते है।
रास्ते पर कांटे बिछे हो चाहे, अपनी मंजिल का पता हम जानते है।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
रोला छंद
रोला छंद
sushil sarna
इंद्रधनुषी प्रेम
इंद्रधनुषी प्रेम
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
चुनाव 2024
चुनाव 2024
Bodhisatva kastooriya
2644.पूर्णिका
2644.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
Loading...