Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jul 2023 · 1 min read

सीखने की, ललक है, अगर आपमें,

सीखने की, ललक है, अगर आपमें,
उम्र का, कोई भी दौर, बाधक नहीं।
सीख सकते, हैं हम, हर हुनर आप ही,
सीखने में, निपुण, सिर्फ साधक नहीं॥

– निरंजन कुमार तिलक ‘अंकुर’

407 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वर्षा के दिन आए
वर्षा के दिन आए
Dr. Pradeep Kumar Sharma
*सेब का बंटवारा*
*सेब का बंटवारा*
Dushyant Kumar
बच्चों के पिता
बच्चों के पिता
Dr. Kishan Karigar
"मैं सब कुछ सुनकर मैं चुपचाप लौट आता हूँ
गुमनाम 'बाबा'
एक अलग सी चमक है उसके मुखड़े में,
एक अलग सी चमक है उसके मुखड़े में,
manjula chauhan
#दोहा-
#दोहा-
*Author प्रणय प्रभात*
सदा बढ़ता है,वह 'नायक' अमल बन ताज ठुकराता।
सदा बढ़ता है,वह 'नायक' अमल बन ताज ठुकराता।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"हंस"
Dr. Kishan tandon kranti
विरह गीत
विरह गीत
नाथ सोनांचली
न मिलती कुछ तवज्जो है, न होता मान सीधे का।
न मिलती कुछ तवज्जो है, न होता मान सीधे का।
डॉ.सीमा अग्रवाल
पके फलों के रूपों को देखें
पके फलों के रूपों को देखें
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
Neerja Sharma
Jese Doosro ko khushi dene se khushiya milti hai
Jese Doosro ko khushi dene se khushiya milti hai
shabina. Naaz
तारीफ किसकी करूं
तारीफ किसकी करूं
कवि दीपक बवेजा
बहुत दम हो गए
बहुत दम हो गए
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
अपने साथ तो सब अपना है
अपने साथ तो सब अपना है
Dheerja Sharma
"डिजिटल दुनिया! खो गए हैं हम.. इस डिजिटल दुनिया के मोह में,
पूर्वार्थ
तुम्हीं तुम हो.......!
तुम्हीं तुम हो.......!
Awadhesh Kumar Singh
अवसाद का इलाज़
अवसाद का इलाज़
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्रभु ने बनवाई रामसेतु माता सीता के खोने पर।
प्रभु ने बनवाई रामसेतु माता सीता के खोने पर।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
*दुनिया में हों सभी निरोगी, हे प्रभु ऐसा वर दो (गीत)*
*दुनिया में हों सभी निरोगी, हे प्रभु ऐसा वर दो (गीत)*
Ravi Prakash
जय शिव-शंकर
जय शिव-शंकर
Anil Mishra Prahari
चुनाव 2024
चुनाव 2024
Bodhisatva kastooriya
करवां उसका आगे ही बढ़ता रहा।
करवां उसका आगे ही बढ़ता रहा।
सत्य कुमार प्रेमी
प्याली से चाय हो की ,
प्याली से चाय हो की ,
sushil sarna
छोटी कहानी -
छोटी कहानी - "पानी और आसमान"
Dr Tabassum Jahan
लोगो समझना चाहिए
लोगो समझना चाहिए
शेखर सिंह
हर सफ़र ज़िंदगी नहीं होता
हर सफ़र ज़िंदगी नहीं होता
Dr fauzia Naseem shad
हँसने-हँसाने में नहीं कोई खामी है।
हँसने-हँसाने में नहीं कोई खामी है।
लक्ष्मी सिंह
3246.*पूर्णिका*
3246.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...