Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Apr 2024 · 1 min read

सियासत नहीं रही अब शरीफों का काम ।

सियासत नहीं रही अब शरीफों का काम ।
यह तो पाक दामन को भी कर दे बदनाम ।
बेशर्म और कमजर्फ लोगों का है यह जहां ,
ऐसी दुनिया को जनाब ! दूर से ही सलाम ।

1 Like · 119 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from ओनिका सेतिया 'अनु '
View all
You may also like:
*कोई मंत्री बन गया, छिना किसी से ताज (कुंडलिया)*
*कोई मंत्री बन गया, छिना किसी से ताज (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
" खुशी में डूब जाते हैं "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
मन नहीं होता
मन नहीं होता
Surinder blackpen
आदि गुरु शंकराचार्य जयंती
आदि गुरु शंकराचार्य जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
आँखे हैं दो लेकिन नज़र एक ही आता है
आँखे हैं दो लेकिन नज़र एक ही आता है
शेखर सिंह
अरे ! पिछे मुडकर मत देख
अरे ! पिछे मुडकर मत देख
VINOD CHAUHAN
बिन बोले ही हो गई, मन  से  मन  की  बात ।
बिन बोले ही हो गई, मन से मन की बात ।
sushil sarna
"मैं आज़ाद हो गया"
Lohit Tamta
आगे बढ़ने दे नहीं,
आगे बढ़ने दे नहीं,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
चारू कात देख दुनियां कें,सोचि रहल छी ठाड़ भेल !
चारू कात देख दुनियां कें,सोचि रहल छी ठाड़ भेल !
DrLakshman Jha Parimal
॥ जीवन यात्रा मे आप किस गति से चल रहे है इसका अपना  महत्व  ह
॥ जीवन यात्रा मे आप किस गति से चल रहे है इसका अपना महत्व ह
Satya Prakash Sharma
गुरुर ज्यादा करोगे
गुरुर ज्यादा करोगे
Harminder Kaur
सावन और स्वार्थी शाकाहारी भक्त
सावन और स्वार्थी शाकाहारी भक्त
Dr MusafiR BaithA
मैं एक खिलौना हूं...
मैं एक खिलौना हूं...
Naushaba Suriya
* धन्य अयोध्याधाम है *
* धन्य अयोध्याधाम है *
surenderpal vaidya
4. गुलिस्तान
4. गुलिस्तान
Rajeev Dutta
सपने सारे टूट चुके हैं ।
सपने सारे टूट चुके हैं ।
Arvind trivedi
"सम्भव"
Dr. Kishan tandon kranti
किताब
किताब
Lalit Singh thakur
23/65.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/65.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
💐प्रेम कौतुक-533💐
💐प्रेम कौतुक-533💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सौंदर्य मां वसुधा की🙏
सौंदर्य मां वसुधा की🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
काश
काश
लक्ष्मी सिंह
ज्ञानमय
ज्ञानमय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बाप के ब्रह्मभोज की पूड़ी
बाप के ब्रह्मभोज की पूड़ी
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
*दिल चाहता है*
*दिल चाहता है*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Kitna hasin ittefak tha ,
Kitna hasin ittefak tha ,
Sakshi Tripathi
श्री राम आ गए...!
श्री राम आ गए...!
भवेश
संकल्प
संकल्प
Shyam Sundar Subramanian
जीत जुनून से तय होती है।
जीत जुनून से तय होती है।
Rj Anand Prajapati
Loading...