Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Nov 2023 · 1 min read

*** सिमटती जिंदगी और बिखरता पल…! ***

” आज क्यों, मैं स्वच्छंद नहीं…?
आज क्यों, मैं स्वतंत्र नहीं…?
टिक-टिक करते…
सरकती हुई ये पल…!
दिन-तारीख-महीनों के सीमाओं में…
गुजरता हुआ ये आज और कल…!
बोझ तले बढ़ते कदम…
पल-पल बढ़ती उम्मीदें…!
लक्ष्य पाने…
तरह-तरह के नई तरकीब…!
और समय सीमा में…
पूर्ण करने की जद्दोजहदें…!
बढ़ते आवश्यकता की तनाव…
मैं आगे, तू पीछे की टकराव…!
आज क्यों है…?
जीवन में इतनी दबाव…!
क्या हर चीज पा लेना ही…
सफल जिंदगी है…?
मेरे आगे-पीछे घूमे हर कोई…
क्या यही बंदगी है…?
एक सीमा में…
क्यों बंधी है ये जिंदगी…?
कुछ पैमाने लिए घेरों में…
क्यों बेबस है ये जिंदगी…?
कुछ नशा क्यों..?
ये तरक्की का…!
इतनी रफ्तार क्यों..?
ये अनमने सफर का…!
विचलित मन का ये दौर…
तृष्णा लिए मन का ये बौर…!
अचानक कुछ प्रश्न चित मन…
मुझे घेर लेता है…!
बड़ी-बड़ी मंजिल बनाया…
पर… क्यों सुकून नहीं…?
मखमली चादर की सेज…
पर… क्यों चैन की नींद नहीं…?
हर कोई इर्द-गिर्द है मेरे…
पास-पड़ोस रिश्ते-नाते…!
फिर क्यों…?
बिखरते ये जिंदगी का सफर…!
शायद…! ये विकास के..
अनियमित गति का असर है…!
बोझ तले दबे…
जिंदगी का सफर है…!
आज क्यों…? मैं स्वच्छंद नहीं…
आज क्यों…? मैं स्वतंत्र नहीं…!! ”

*****************∆∆∆****************

* बी पी पटेल *
बिलासपुर ( छ.ग.)
१८/११/२०२३

Language: Hindi
152 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मनुष्य प्रवृत्ति
मनुष्य प्रवृत्ति
विजय कुमार अग्रवाल
ख़ुश-फ़हमी
ख़ुश-फ़हमी
Fuzail Sardhanvi
संस्कृति
संस्कृति
Abhijeet
तपोवन है जीवन
तपोवन है जीवन
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
प्यार भरा इतवार
प्यार भरा इतवार
Manju Singh
2686.*पूर्णिका*
2686.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
खुशी की तलाश
खुशी की तलाश
Sandeep Pande
"टमाटर" ऐसी चीज़ नहीं
*Author प्रणय प्रभात*
राज्य अभिषेक है, मृत्यु भोज
राज्य अभिषेक है, मृत्यु भोज
Anil chobisa
***
***
sushil sarna
हाथी के दांत
हाथी के दांत
Dr. Pradeep Kumar Sharma
उम्रभर
उम्रभर
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
वरदान
वरदान
पंकज कुमार कर्ण
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
Neelam Sharma
*मन के मीत किधर है*
*मन के मीत किधर है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
#justareminderekabodhbalak
#justareminderekabodhbalak
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ज्ञानमय
ज्ञानमय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"पवित्र पौधा"
Dr. Kishan tandon kranti
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
शेखर सिंह ✍️
शेखर सिंह ✍️
शेखर सिंह
तुझे स्पर्श न कर पाई
तुझे स्पर्श न कर पाई
Dr fauzia Naseem shad
*आशाओं के दीप*
*आशाओं के दीप*
Harminder Kaur
Khud ke khalish ko bharne ka
Khud ke khalish ko bharne ka
Sakshi Tripathi
*वृद्धावस्था : सात दोहे*
*वृद्धावस्था : सात दोहे*
Ravi Prakash
यादों को याद करें कितना ?
यादों को याद करें कितना ?
The_dk_poetry
श्रद्धावान बनें हम लेकिन, रहें अंधश्रद्धा से दूर।
श्रद्धावान बनें हम लेकिन, रहें अंधश्रद्धा से दूर।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
मेरा प्यारा राज्य...... उत्तर प्रदेश
मेरा प्यारा राज्य...... उत्तर प्रदेश
Neeraj Agarwal
তুমি এলে না
তুমি এলে না
goutam shaw
Keep this in your mind:
Keep this in your mind:
पूर्वार्थ
अमर्यादा
अमर्यादा
साहिल
Loading...