Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Oct 2023 · 1 min read

साहिल समंदर के तट पर खड़ी हूँ,

साहिल समंदर के तट पर खड़ी हूँ,
मौज हयात की लहरों से लिपटी हूँ।
समय की लहरों में तैरता जाता हूँ,
जिन्दगी की धारा में बहता जाता हूँ।

1 Like · 232 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अरे शुक्र मनाओ, मैं शुरू में ही नहीं बताया तेरी मुहब्बत, वर्ना मेरे शब्द बेवफ़ा नहीं, जो उनको समझाया जा रहा है।
अरे शुक्र मनाओ, मैं शुरू में ही नहीं बताया तेरी मुहब्बत, वर्ना मेरे शब्द बेवफ़ा नहीं, जो उनको समझाया जा रहा है।
Anand Kumar
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet kumar Shukla
कर्जमाफी
कर्जमाफी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मुस्कुराते रहे
मुस्कुराते रहे
Dr. Sunita Singh
#आज_की_विनती
#आज_की_विनती
*Author प्रणय प्रभात*
जब स्वार्थ अदब का कंबल ओढ़ कर आता है तो उसमें प्रेम की गरमाह
जब स्वार्थ अदब का कंबल ओढ़ कर आता है तो उसमें प्रेम की गरमाह
Lokesh Singh
युद्ध नहीं अब शांति चाहिए
युद्ध नहीं अब शांति चाहिए
लक्ष्मी सिंह
कविता
कविता
Rambali Mishra
संयम
संयम
RAKESH RAKESH
कोई भी मोटिवेशनल गुरू
कोई भी मोटिवेशनल गुरू
ruby kumari
24/234. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/234. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*वृद्धावस्था : सात दोहे*
*वृद्धावस्था : सात दोहे*
Ravi Prakash
ज़रा पढ़ना ग़ज़ल
ज़रा पढ़ना ग़ज़ल
Surinder blackpen
ह्रदय के आंगन में
ह्रदय के आंगन में
Dr.Pratibha Prakash
हदें
हदें
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
चार लाइनर विधा मुक्तक
चार लाइनर विधा मुक्तक
Mahender Singh
*दो स्थितियां*
*दो स्थितियां*
Suryakant Dwivedi
खुदकुशी नहीं, इंकलाब करो
खुदकुशी नहीं, इंकलाब करो
Shekhar Chandra Mitra
थाल सजाकर दीप जलाकर रोली तिलक करूँ अभिनंदन ‌।
थाल सजाकर दीप जलाकर रोली तिलक करूँ अभिनंदन ‌।
Neelam Sharma
मन डूब गया
मन डूब गया
Kshma Urmila
विद्यालयीय पठन पाठन समाप्त होने के बाद जीवन में बहुत चुनौतिय
विद्यालयीय पठन पाठन समाप्त होने के बाद जीवन में बहुत चुनौतिय
पूर्वार्थ
खामोश अवशेष ....
खामोश अवशेष ....
sushil sarna
मानवीय कर्तव्य
मानवीय कर्तव्य
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"नेवला की सोच"
Dr. Kishan tandon kranti
आदित्य यान L1
आदित्य यान L1
कार्तिक नितिन शर्मा
लाचार जन की हाय
लाचार जन की हाय
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
चंद्रयान 3
चंद्रयान 3
Dr.Priya Soni Khare
खुद को तलाशना और तराशना
खुद को तलाशना और तराशना
Manoj Mahato
नैया फसी मैया है बीच भवर
नैया फसी मैया है बीच भवर
Basant Bhagawan Roy
धनवान -: माँ और मिट्टी
धनवान -: माँ और मिट्टी
Surya Barman
Loading...