Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Oct 2023 · 1 min read

सादगी तो हमारी जरा……देखिए

सादगी तो हमारी जरा……देखिए

हमने मुस्करा के हाले दिल कह दिया
…..
कितने आराम से आप ने ये किया
रुबरु मेरे आईना रख दिया ……shabinaZ

Language: Hindi
231 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from shabina. Naaz
View all
You may also like:
इन बादलों की राहों में अब न आना कोई
इन बादलों की राहों में अब न आना कोई
VINOD CHAUHAN
राष्ट्र निर्माण को जीवन का उद्देश्य बनाया था
राष्ट्र निर्माण को जीवन का उद्देश्य बनाया था
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*कभी तो खुली किताब सी हो जिंदगी*
*कभी तो खुली किताब सी हो जिंदगी*
Shashi kala vyas
वाणी का माधुर्य और मर्यादा
वाणी का माधुर्य और मर्यादा
Paras Nath Jha
चांदनी की झील में प्यार का इज़हार हूँ ।
चांदनी की झील में प्यार का इज़हार हूँ ।
sushil sarna
प्यार मेरा तू ही तो है।
प्यार मेरा तू ही तो है।
Buddha Prakash
किए जिन्होंने देश हित
किए जिन्होंने देश हित
महेश चन्द्र त्रिपाठी
*क्या देखते हो*
*क्या देखते हो*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अधर्म का उत्पात
अधर्म का उत्पात
Dr. Harvinder Singh Bakshi
सरकार~
सरकार~
दिनेश एल० "जैहिंद"
थोड़ा सच बोलके देखो,हाँ, ज़रा सच बोलके देखो,
थोड़ा सच बोलके देखो,हाँ, ज़रा सच बोलके देखो,
पूर्वार्थ
गुरु मांत है गुरु पिता है गुरु गुरु सर्वे गुरु
गुरु मांत है गुरु पिता है गुरु गुरु सर्वे गुरु
प्रेमदास वसु सुरेखा
2875.*पूर्णिका*
2875.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
चांद सितारे चाहत हैं तुम्हारी......
चांद सितारे चाहत हैं तुम्हारी......
Neeraj Agarwal
तुम मेरा साथ दो
तुम मेरा साथ दो
Surya Barman
मजदूर
मजदूर
Harish Chandra Pande
■मंज़रकशी :--
■मंज़रकशी :--
*Author प्रणय प्रभात*
चौपाई छंद में मान्य 16 मात्रा वाले दस छंद {सूक्ष्म अंतर से
चौपाई छंद में मान्य 16 मात्रा वाले दस छंद {सूक्ष्म अंतर से
Subhash Singhai
!! शब्द !!
!! शब्द !!
Akash Yadav
दूसरा मौका
दूसरा मौका
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
अक्ल के दुश्मन
अक्ल के दुश्मन
Shekhar Chandra Mitra
"चाहत का सफर"
Dr. Kishan tandon kranti
"नए सवेरे की खुशी" (The Joy of a New Morning)
Sidhartha Mishra
*जीवन साथी धन्य है, नमस्कार सौ बार (पॉंच दोहे)*
*जीवन साथी धन्य है, नमस्कार सौ बार (पॉंच दोहे)*
Ravi Prakash
नफरतों को भी
नफरतों को भी
Dr fauzia Naseem shad
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नेता पलटू राम
नेता पलटू राम
Jatashankar Prajapati
🌸दे मुझे शक्ति🌸
🌸दे मुझे शक्ति🌸
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
और ज़रा भी नहीं सोचते हम
और ज़रा भी नहीं सोचते हम
Surinder blackpen
कलम लिख दे।
कलम लिख दे।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Loading...