Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Oct 2022 · 1 min read

सात अंगना के हमरों बखरियां सखी

हंसे – खेले के रहे, उमिरिया सखी
सात अंगना के, हमरों बखरिया सखी

पढ़े लिखे में बीते, जिंदगानी सखी
बोझ बढ़ते गईल, का बखानी सखी
भरल पुरल खेतवा, दलनिया सखी
मोड़ लेहले समईया, कवन रहिया सखी
सात अंगना के, हमरों बखरिया सखी

रचि रचि के, सजा दा, ई बगियाँ सखी
कबों लागे ना, तोह के नजरियाँ सखी
मन से मनसा पुरादा, बन बहुरियाँ सखी
फिर फूलवा, खिला दा, अंगनयियाँ सखी
सात अंगना के, हमरों बखरिया सखी

धीरज मनवा में, राखियां दुलरूवा सखी
अंगना चहकीं, चिरईयाँ ललनवा सखी
मिली सगरों, जगत के, स्नेहियाँ सखी
झोपड़ी फिर से, बना दा, महलियाँ सखी
सात अंगना के, हमरों बखरिया सखी

हंसे – खेले के रहे, उमिरिया सखी
सात अंगना के, हमरों बखरिया सखी

Language: Bhojpuri
2 Likes · 225 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Er.Navaneet R Shandily
View all
You may also like:
मुक्तक।
मुक्तक।
Pankaj sharma Tarun
सद्विचार
सद्विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जीवन  आगे बढ़  गया, पीछे रह गए संग ।
जीवन आगे बढ़ गया, पीछे रह गए संग ।
sushil sarna
कब मेरे मालिक आएंगे!
कब मेरे मालिक आएंगे!
Kuldeep mishra (KD)
2466.पूर्णिका
2466.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मुझे फ़र्क नहीं दिखता, ख़ुदा और मोहब्बत में ।
मुझे फ़र्क नहीं दिखता, ख़ुदा और मोहब्बत में ।
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
झकझोरती दरिंदगी
झकझोरती दरिंदगी
Dr. Harvinder Singh Bakshi
पातुक
पातुक
शांतिलाल सोनी
तेरी हस्ती, मेरा दुःख,
तेरी हस्ती, मेरा दुःख,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
17- राष्ट्रध्वज हो सबसे ऊँचा
17- राष्ट्रध्वज हो सबसे ऊँचा
Ajay Kumar Vimal
लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित करना भी एक विशेष कला है,जो आपक
लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित करना भी एक विशेष कला है,जो आपक
Paras Nath Jha
नसीहत
नसीहत
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
■ भगवान के लिए, ख़ुदा के वास्ते।।
■ भगवान के लिए, ख़ुदा के वास्ते।।
*Author प्रणय प्रभात*
*भगत सिंह हूँ फैन  सदा तेरी शराफत का*
*भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
सपने तेरे है तो संघर्ष करना होगा
सपने तेरे है तो संघर्ष करना होगा
पूर्वार्थ
***
*** " आधुनिकता के असर.......! " ***
VEDANTA PATEL
अधूरे ख्वाब
अधूरे ख्वाब
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
चाँद खिलौना
चाँद खिलौना
SHAILESH MOHAN
हिन्दी ग़ज़लः सवाल सार्थकता का? +रमेशराज
हिन्दी ग़ज़लः सवाल सार्थकता का? +रमेशराज
कवि रमेशराज
किछ पन्नाके छै ई जिनगीहमरा हाथमे कलम नइँमेटाैना थमाएल गेल अछ
किछ पन्नाके छै ई जिनगीहमरा हाथमे कलम नइँमेटाैना थमाएल गेल अछ
गजेन्द्र गजुर ( Gajendra Gajur )
जीवन
जीवन
Santosh Shrivastava
सफलता
सफलता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
💐अज्ञात के प्रति-42💐
💐अज्ञात के प्रति-42💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
खो गई जो किर्ति भारत की उसे वापस दिला दो।
खो गई जो किर्ति भारत की उसे वापस दिला दो।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
Gairo ko sawarne me khuch aise
Gairo ko sawarne me khuch aise
Sakshi Tripathi
नहीं चाहता मैं किसी को साथी अपना बनाना
नहीं चाहता मैं किसी को साथी अपना बनाना
gurudeenverma198
गुत्थियों का हल आसान नही .....
गुत्थियों का हल आसान नही .....
Rohit yadav
-- आगे बढ़ना है न ?--
-- आगे बढ़ना है न ?--
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
ऐ आसमां ना इतरा खुद पर
ऐ आसमां ना इतरा खुद पर
शिव प्रताप लोधी
पंचगव्य
पंचगव्य
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
Loading...