Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Sep 2022 · 1 min read

सवाल कब

इसका कब एतबार होता है ।
ख़्वाब बस ख़्वाब होता है ।।
मुश्किल कभी आसान होता है ।
सवाल कब बे’जवाब होता है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
9 Likes · 177 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
शान्त हृदय से खींचिए,
शान्त हृदय से खींचिए,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
प्यार के बारे में क्या?
प्यार के बारे में क्या?
Otteri Selvakumar
*🔱नित्य हूँ निरन्तर हूँ...*
*🔱नित्य हूँ निरन्तर हूँ...*
Dr Manju Saini
इसरो का आदित्य
इसरो का आदित्य
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
11-कैसे - कैसे लोग
11-कैसे - कैसे लोग
Ajay Kumar Vimal
प्रीत
प्रीत
Mahesh Tiwari 'Ayan'
वास्तविक मौज
वास्तविक मौज
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
किस लिए पास चले आए अदा किसकी थी
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
अव्यक्त प्रेम
अव्यक्त प्रेम
Surinder blackpen
दो जून की रोटी
दो जून की रोटी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
आज हमारा इंडिया
आज हमारा इंडिया
*Author प्रणय प्रभात*
भ्रम का जाल
भ्रम का जाल
नन्दलाल सुथार "राही"
हिंदी सबसे प्यारा है
हिंदी सबसे प्यारा है
शेख रहमत अली "बस्तवी"
*भगवान गणेश जी के जन्म की कथा*
*भगवान गणेश जी के जन्म की कथा*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
असुर सम्राट भक्त प्रहलाद – पूर्वजन्म की कथा – 03
असुर सम्राट भक्त प्रहलाद – पूर्वजन्म की कथा – 03
Kirti Aphale
हर तूफ़ान के बाद खुद को समेट कर सजाया है
हर तूफ़ान के बाद खुद को समेट कर सजाया है
Pramila sultan
एक अबोध बालक
एक अबोध बालक
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कुछ तो उन्होंने भी कहा होगा
कुछ तो उन्होंने भी कहा होगा
पूर्वार्थ
ऐसे कैसे छोड़ कर जा सकता है,
ऐसे कैसे छोड़ कर जा सकता है,
Buddha Prakash
पृष्ठों पर बांँध से
पृष्ठों पर बांँध से
Neelam Sharma
आपकी आहुति और देशहित
आपकी आहुति और देशहित
Mahender Singh
जागृति और संकल्प , जीवन के रूपांतरण का आधार
जागृति और संकल्प , जीवन के रूपांतरण का आधार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मुझे भी बतला दो कोई जरा लकीरों को पढ़ने वालों
मुझे भी बतला दो कोई जरा लकीरों को पढ़ने वालों
VINOD CHAUHAN
कभी न दिखावे का तुम दान करना
कभी न दिखावे का तुम दान करना
Dr fauzia Naseem shad
चंद अपनों की दुआओं का असर है ये ....
चंद अपनों की दुआओं का असर है ये ....
shabina. Naaz
*जनसेवा अब शब्दकोश में फरमाती आराम है (गीतिका)*
*जनसेवा अब शब्दकोश में फरमाती आराम है (गीतिका)*
Ravi Prakash
नवरात्रि का छठा दिन मां दुर्गा की छठी शक्ति मां कात्यायनी को
नवरात्रि का छठा दिन मां दुर्गा की छठी शक्ति मां कात्यायनी को
Shashi kala vyas
एक विद्यार्थी जब एक लड़की के तरफ आकर्षित हो जाता है बजाय कित
एक विद्यार्थी जब एक लड़की के तरफ आकर्षित हो जाता है बजाय कित
Rj Anand Prajapati
क्या हुआ ???
क्या हुआ ???
Shaily
"प्रेम रोग"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...