Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jul 2016 · 1 min read

सपनों सी एक गजल

बता दिया है तेरे दिल को हम चुरायेंगे
जहाँ कहीं भी रहो दूर अब न जाएंगे

कसम हमें है मुहब्बत को हम निभाएंगे
तुम्हारी राह में सौ दीप हम जलाएंगे

चले है साथ तो राहों में गुल खिलाएंगे
तुम्हारी राह से खारों को हम हटाएंगे

डरो नहीं कि ग़मों के ये साये पीछे हैं
अँधेरी रात में तारों सा जगमगाएंगे

कभी बहार कभी बागबाँ ये पूछेगा
तुम्हे जो देख के ये फूल महक जाएंगे

ये चांदनी ये सितारे हमें मिलाएंगे
नहीं है दूर बुलाते हीं जगमगाएंगे

बजेगी बांसुरी घनश्याम नजर आएंगे
बनूँगी राधिके तो कृष्ण मिल हीं जाएंगे

ये रात भीगी सी सपने सुहाने आँखों में
बता कि तू नहीं तो सो भी हम क्या पाएंगे
डा पुष्पा पटेल

1 Like · 3 Comments · 215 Views
You may also like:
नफ़्स
निकेश कुमार ठाकुर
★TIME IS THE TEACHER OF HUMAN ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
मानव तन
Rakesh Pathak Kathara
बिखरे हम टूट के फिर कच्चे मकानों की तरह
Ashok Ashq
माँ
संजीव शुक्ल 'सचिन'
हिन्दी भाषा
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
तुम्हारा देखना ❣️
अनंत पांडेय "INϕ9YT"
जिंदगी ये नहीं जिंदगी से वो थी
Abhishek Upadhyay
✍️सारे अपने है✍️
'अशांत' शेखर
*रखो हिंदी दुखियारी (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
नमन करूँ कर जोर
Dr. Sunita Singh
असफलता को सहजता से स्वीकारें
Dr fauzia Naseem shad
ये संगम दिलों का इबादत हो जैसे
VINOD KUMAR CHAUHAN
“ गलत प्रयोग से “ अग्निपथ “ नहीं बनता बल्कि...
DrLakshman Jha Parimal
कुछ तो है उनके प्यार में
Buddha Prakash
पेड़ - बाल कविता
Kanchan Khanna
वो हमें दिन ब दिन आजमाते रहे।
सत्य कुमार प्रेमी
राजस्थान की पहचान
Shekhar Chandra Mitra
शाम से ही तेरी याद सताने लगती है
Ram Krishan Rastogi
हम आज भी हैं आपके.....
अश्क चिरैयाकोटी
आहट को पहचान...
मनोज कर्ण
मेहनत
AMRESH KUMAR VERMA
बाबूजी! आती याद
श्री रमण 'श्रीपद्'
कातिल ना मिला।
Taj Mohammad
कुछ काम करो
Anamika Singh
मूकदर्शक
Shyam Sundar Subramanian
【7】** हाथी राजा **
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
✍️नीली जर्सी वालों ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
याद आयो पहलड़ो जमानो "
Dr Meenu Poonia
ईद अल अजहा
Awadhesh Saxena
Loading...