Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 May 2024 · 1 min read

“” *सपनों की उड़ान* “”

“” सपनों की उड़ान “”
******************

अब
उड़े चलो
करो नित्य नए सपने पूरे….,
और छुए चलो जीवन का उत्तुँग शिखर !! 1 !!

यहाँ
चले जीयो
करो सभी साकार जीवन संकल्पनाएं…,
और करते चलो सभी कठिन लक्ष्यों को पार! 2!

तुम
उतारते चलो
चित्र जीवन कैनवास पे अपने…..,
और बनाए चलो जीवन की सुंदर तस्वीर!! 3!!

लोग
कुछभी बोलें
सदा सुनें अपने मन की…..,
और करते चलें दिल से काम को प्यार !! 4 !!

कर्म
ऐसे चुनें
जो चलें भाग्य बनाए हमारे…..,
और फिर होए उनपे गर्व हमें अपार!! 5!!

कभी
ना छोड़ें
साथ आशाओं का यहाँ पे….,
और तलाशते पाएं सफलताओं का द्वार!! 6!!

वही
सदा जीतते
आए मुश्किल से मुश्किल मंज़िल…..,
जिन्होंने करी ना स्वीकार जीवन में हार!! 7!!

चलो
कदम बढ़ाएं
चलें जीवन में हर्षाए मुस्कुराए…..,
और चूमें ‘ सपनों की उड़ान ‘,हरेक बार!! 8!!

¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥¥

सुनीलानंद
सोमवार,
13 मई, 2024
जयपुर
राजस्थान |

Language: Hindi
30 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
विकट संयोग
विकट संयोग
Dr.Priya Soni Khare
भ्रांति पथ
भ्रांति पथ
नवीन जोशी 'नवल'
23/66.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/66.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हर तरफ़ रंज है, आलाम है, तन्हाई है
हर तरफ़ रंज है, आलाम है, तन्हाई है
अरशद रसूल बदायूंनी
सन्मति औ विवेक का कोष
सन्मति औ विवेक का कोष
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
*इमली (बाल कविता)*
*इमली (बाल कविता)*
Ravi Prakash
वक्त बर्बाद करने वाले को एक दिन वक्त बर्बाद करके छोड़ता है।
वक्त बर्बाद करने वाले को एक दिन वक्त बर्बाद करके छोड़ता है।
Paras Nath Jha
So, blessed by you , mom
So, blessed by you , mom
Rajan Sharma
चाहे अकेला हूँ , लेकिन नहीं कोई मुझको गम
चाहे अकेला हूँ , लेकिन नहीं कोई मुझको गम
gurudeenverma198
अधखिला फूल निहार रहा है
अधखिला फूल निहार रहा है
VINOD CHAUHAN
"भावनाएँ"
Dr. Kishan tandon kranti
साँवरिया
साँवरिया
Pratibha Pandey
मुस्कुराना चाहता हूं।
मुस्कुराना चाहता हूं।
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
चुनाव आनेवाला है
चुनाव आनेवाला है
Sanjay ' शून्य'
"मां की ममता"
Pushpraj Anant
रुपयों लदा पेड़ जो होता ,
रुपयों लदा पेड़ जो होता ,
Vedha Singh
खुदा की हर बात सही
खुदा की हर बात सही
Harminder Kaur
टन टन बजेगी घंटी
टन टन बजेगी घंटी
SHAMA PARVEEN
■ कड़वा सच...
■ कड़वा सच...
*प्रणय प्रभात*
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Manu Vashistha
*** अहसास...!!! ***
*** अहसास...!!! ***
VEDANTA PATEL
बच्चे थिरक रहे हैं आँगन।
बच्चे थिरक रहे हैं आँगन।
लक्ष्मी सिंह
वायदे के बाद भी
वायदे के बाद भी
Atul "Krishn"
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मेरे कृष्ण की माय आपर
मेरे कृष्ण की माय आपर
Neeraj Mishra " नीर "
ज़िंदगी का सवाल
ज़िंदगी का सवाल
Dr fauzia Naseem shad
उसे देख खिल गयीं थीं कलियांँ
उसे देख खिल गयीं थीं कलियांँ
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
तेरी याद
तेरी याद
SURYA PRAKASH SHARMA
इंसान एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त थे
इंसान एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त थे
ruby kumari
Loading...