Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jan 2024 · 1 min read

सच्ची दोस्ती –

सच्ची दोस्ती –
सच्ची दोस्ती करो , लेकिन लड़कर हराने वाली नहीं । आपस में लढ़ाने वाले से सावधान रहे, सतर्क रहें । हमारे आस-पास शराब एवं नशा की दूकानें से दूर रहे । वह इसलिए हैं मनुष्य इसी में डुबा रहे , विचार शक्ति समाप्त हो । मंदिर हमें मन की शांति , पुरानी संस्कृति एवं इतिहास , श्रध्दा – विश्वास कायम रखकर प्रकृति से मित्रवत रहें ।

236 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
Manisha Manjari
मेले
मेले
Punam Pande
I hope you find someone who never makes you question your ow
I hope you find someone who never makes you question your ow
पूर्वार्थ
अरमां (घमण्ड)
अरमां (घमण्ड)
umesh mehra
हे ! गणपति महाराज
हे ! गणपति महाराज
Ram Krishan Rastogi
समझदार बेवकूफ़
समझदार बेवकूफ़
Shyam Sundar Subramanian
तुम्हें लगता है, मैं धोखेबाज हूँ ।
तुम्हें लगता है, मैं धोखेबाज हूँ ।
Dr. Man Mohan Krishna
महाप्रभु वल्लभाचार्य जयंती
महाप्रभु वल्लभाचार्य जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मानव मूल्य शर्मसार हुआ
मानव मूल्य शर्मसार हुआ
Bodhisatva kastooriya
गुनो सार जीवन का...
गुनो सार जीवन का...
डॉ.सीमा अग्रवाल
: आओ अपने देश वापस चलते हैं....
: आओ अपने देश वापस चलते हैं....
shabina. Naaz
ॐ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
*जाता देखा शीत तो, फागुन हुआ निहाल (कुंडलिया)*
*जाता देखा शीत तो, फागुन हुआ निहाल (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
🍂🍂🍂🍂*अपना गुरुकुल*🍂🍂🍂🍂
🍂🍂🍂🍂*अपना गुरुकुल*🍂🍂🍂🍂
Dr. Vaishali Verma
💐प्रेम कौतुक-401💐
💐प्रेम कौतुक-401💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"ख़ासियत"
Dr. Kishan tandon kranti
मौसम बेईमान है – प्रेम रस
मौसम बेईमान है – प्रेम रस
Amit Pathak
नूतन सद्आचार मिल गया
नूतन सद्आचार मिल गया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - १०)
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - १०)
Kanchan Khanna
दोहा त्रयी. . .
दोहा त्रयी. . .
sushil sarna
सम्राट कृष्णदेव राय
सम्राट कृष्णदेव राय
Ajay Shekhavat
Dard-e-Madhushala
Dard-e-Madhushala
Tushar Jagawat
ईश्वर से साक्षात्कार कराता है संगीत
ईश्वर से साक्षात्कार कराता है संगीत
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
2594.पूर्णिका
2594.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
" उज़्र " ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
किसी औरत से
किसी औरत से
Shekhar Chandra Mitra
■ विनम्र आग्रह...
■ विनम्र आग्रह...
*Author प्रणय प्रभात*
हर प्रेम कहानी का यही अंत होता है,
हर प्रेम कहानी का यही अंत होता है,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
शायरी - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
शायरी - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
पंचांग के मुताबिक हर महीने में कृष्ण और शुक्ल पक्ष की त्रयोद
पंचांग के मुताबिक हर महीने में कृष्ण और शुक्ल पक्ष की त्रयोद
Shashi kala vyas
Loading...