Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Jan 2024 · 1 min read

श्री श्याम भजन

वो नीले वाला बैठो खाटू धाम, वो लखदाता बैठो खाटू धाम
भक्तों की लगी भीड़ करारी -2 जय तेरी बाबा श्याम
वो नीले वाला ……….
1 खाटू धाम बनो सीकर में, वहाँ विराजे श्याम
सांवरिया तेरो सुनो बडौ ही नाम -2
रिंगस का वह मोड़ निराला, हारे का बाबा श्याम
मोरवीनंदन खाटू तेरा धाम है -2
दुखियों का बेड़ा पार लगा दे -2 महिमा दिखा सरेआम
वो नीले वाला ……….
2】 हर तकलीफ में खाटू वाला, दीनों का हाथ थमता है
रे भाई सबके कष्ट जानता है -2
नि:स्वार्थ जो श्याम को चाहे, श्याम उसे भक्त मानता है
रे भाई सच्चाई श्याम छानता है -2
तन मन धन अर्पण कर दे तू -2 तेरा हो जाए श्याम
वो नील वाला……….
3】 मोर छड़ीधर भटके राही को, सत्य की राह दिखाता है
देखो बिन मांगे राही पता है -2
तीन बाणधारी सब संकट हरे, सोया भाग्य जगाता है
देखो किस्मत को चमकता है -2
मन का मीत बना लो श्याम को -2 मिट जाये जीवन घाम
वो नील वाला……….
लेखक:- खैम सिंह सैनी, ग्राम- गोविंदपुरा, वैर
मो.नं. :- 9266034599

1 Like · 90 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आर-पार की साँसें
आर-पार की साँसें
Dr. Sunita Singh
बदला सा व्यवहार
बदला सा व्यवहार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
प्रेम और आदर
प्रेम और आदर
ओंकार मिश्र
- मर चुकी इंसानियत -
- मर चुकी इंसानियत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
इतना हमने भी
इतना हमने भी
Dr fauzia Naseem shad
झूठ
झूठ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
अनघड़ व्यंग
अनघड़ व्यंग
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हमारा देश
हमारा देश
Neeraj Agarwal
संघर्ष जीवन हैं जवानी, मेहनत करके पाऊं l
संघर्ष जीवन हैं जवानी, मेहनत करके पाऊं l
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
सताया ना कर ये जिंदगी
सताया ना कर ये जिंदगी
Rituraj shivem verma
" तिलिस्मी जादूगर "
Dr Meenu Poonia
जिन्दगी के रोजमर्रे की रफ़्तार में हम इतने खो गए हैं की कभी
जिन्दगी के रोजमर्रे की रफ़्तार में हम इतने खो गए हैं की कभी
Sukoon
इश्क़ का दस्तूर
इश्क़ का दस्तूर
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ज़िंदगी के सौदागर
ज़िंदगी के सौदागर
Shyam Sundar Subramanian
संतोष करना ही आत्मा
संतोष करना ही आत्मा
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मिथकीय/काल्पनिक/गप कथाओं में अक्सर तर्क की रक्षा नहीं हो पात
मिथकीय/काल्पनिक/गप कथाओं में अक्सर तर्क की रक्षा नहीं हो पात
Dr MusafiR BaithA
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
नारी
नारी
Bodhisatva kastooriya
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
DrLakshman Jha Parimal
क्या डरना?
क्या डरना?
Shekhar Chandra Mitra
आँसू
आँसू
Satish Srijan
सत्य ही शिव
सत्य ही शिव
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
2493.पूर्णिका
2493.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
*रिश्ते भैया दूज के, सबसे अधिक पवित्र (कुंडलिया)*
*रिश्ते भैया दूज के, सबसे अधिक पवित्र (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
नव उल्लास होरी में.....!
नव उल्लास होरी में.....!
Awadhesh Kumar Singh
बदनाम ये आवारा जबीं हमसे हुई है
बदनाम ये आवारा जबीं हमसे हुई है
Sarfaraz Ahmed Aasee
अफसोस मुझको भी बदलना पड़ा जमाने के साथ
अफसोस मुझको भी बदलना पड़ा जमाने के साथ
gurudeenverma198
वक्त के आगे
वक्त के आगे
Sangeeta Beniwal
💐प्रेम कौतुक-456💐
💐प्रेम कौतुक-456💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सुप्रभात
सुप्रभात
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
Loading...