Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Jun 2019 · 1 min read

श्रीभगवान बव्वा के दोहे

आज के दोहे ( जून 26, 2019 )
-श्रीभगवान बव्वा

धर्म नाम पर कर रहे, लोग दिखावा आज ।
जीते जी सेवा नहीं, करें मरे तो काज ।।

संख्या भक्तों की बढ़ी, और बढ़े भगवान ।
पुरूषोत्तम के नाम पर, लड़ते हैं नादान ।।

जो करना है आज कर, रखो न कल की आस ।
छोटी सी यह ज़िन्दगी, गिनती के हैं सांस ।।

यह धरती मेरी नहीं, ना तेरा अधिकार ।
तू व मैं मेहमान हैं, रहना है दिन चार ।।

द्रोण की यह कामना, हो अर्जुन का नाम ।
पर राधेय रुकें नहीं, हो जो भी अंज़ाम ।।

हाथ पसारे जो खड़े, जीवित हैं मत मान ।
करो कर्म की साधना, बनो कर्म प्रधान ।

रूढ़ीवादी सोच से, करो किनारा आप ।‌
गंगा धो सकती नहीं , अन्तर्मन के पाप ।।

औरों के खातिर जले, तेरे दिल में आग ।
नफ़रत तुझे मिटा रही, पगले अब तो जाग ।।

बचा हुआ है एक ही , अपने युग में बाण ।
मीठी वाणी बोलकर, करो सुरक्षित प्राण ।।

आने वाली पीढ़ियां, आकर करें गुमान ।
बड़ा जरूरी है हुआ, धरो धरा पर ध्यान ।

Language: Hindi
330 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
" बेदर्द ज़माना "
Chunnu Lal Gupta
#दोहा
#दोहा
*प्रणय प्रभात*
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
नए मुहावरे में बुरी औरत / MUSAFIR BAITHA
नए मुहावरे में बुरी औरत / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
सावन का महीना
सावन का महीना
विजय कुमार अग्रवाल
★
पूर्वार्थ
उतरे हैं निगाह से वे लोग भी पुराने
उतरे हैं निगाह से वे लोग भी पुराने
सिद्धार्थ गोरखपुरी
.......रूठे अल्फाज...
.......रूठे अल्फाज...
Naushaba Suriya
जाने दिया
जाने दिया
Kunal Prashant
रमेशराज की पत्नी विषयक मुक्तछंद कविताएँ
रमेशराज की पत्नी विषयक मुक्तछंद कविताएँ
कवि रमेशराज
क्यों इस तरहां अब हमें देखते हो
क्यों इस तरहां अब हमें देखते हो
gurudeenverma198
"फ़ानी दुनिया"
Dr. Kishan tandon kranti
प्रतीक्षा
प्रतीक्षा
Shaily
एक रूपक ज़िन्दगी का,
एक रूपक ज़िन्दगी का,
Radha shukla
कैसे अम्बर तक जाओगे
कैसे अम्बर तक जाओगे
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
किए जिन्होंने देश हित
किए जिन्होंने देश हित
महेश चन्द्र त्रिपाठी
नव्य द्वीप का रहने वाला
नव्य द्वीप का रहने वाला
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मंज़र
मंज़र
अखिलेश 'अखिल'
पूजा
पूजा
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
" अकेलापन की तड़प"
Pushpraj Anant
*भगत सिंह हूँ फैन  सदा तेरी शराफत का*
*भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जनता हर पल बेचैन
जनता हर पल बेचैन
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मेरी फितरत ही बुरी है
मेरी फितरत ही बुरी है
VINOD CHAUHAN
किसी को जिंदगी लिखने में स्याही ना लगी
किसी को जिंदगी लिखने में स्याही ना लगी
कवि दीपक बवेजा
नीति प्रकाश : फारसी के प्रसिद्ध कवि शेख सादी द्वारा लिखित पुस्तक
नीति प्रकाश : फारसी के प्रसिद्ध कवि शेख सादी द्वारा लिखित पुस्तक "करीमा" का ब्रज भाषा में अनुवाद*
Ravi Prakash
How to Build a Healthy Relationship?
How to Build a Healthy Relationship?
Bindesh kumar jha
वफ़ा की परछाईं मेरे दिल में सदा रहेंगी,
वफ़ा की परछाईं मेरे दिल में सदा रहेंगी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
खरीद लो दुनिया के सारे ऐशो आराम
खरीद लो दुनिया के सारे ऐशो आराम
Ranjeet kumar patre
47.....22 22 22 22 22 22
47.....22 22 22 22 22 22
sushil yadav
भारत ने रचा इतिहास।
भारत ने रचा इतिहास।
Anil Mishra Prahari
Loading...