Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Sep 2022 · 1 min read

शेर

इतनी जल्दी तेरी आँखों से नहीं गिरेंगे
गर आँखों से गिरे तो आब-ए-चश्म बनकर
तेरे रुखसार पर चमकेंगे.

Language: Hindi
Tag: शेर
181 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Rajiv Vishal (Rohtasi)
View all
You may also like:
देती है सबक़ ऐसे
देती है सबक़ ऐसे
Dr fauzia Naseem shad
मन मेरा गाँव गाँव न होना मुझे शहर
मन मेरा गाँव गाँव न होना मुझे शहर
Rekha Drolia
कविता
कविता
Rambali Mishra
कभी यदि मिलना हुआ फिर से
कभी यदि मिलना हुआ फिर से
Dr Manju Saini
/// जीवन ///
/// जीवन ///
जगदीश लववंशी
एक शाम ठहर कर देखा
एक शाम ठहर कर देखा
Kunal Prashant
जुड़वा भाई ( शिक्षाप्रद कहानी )
जुड़वा भाई ( शिक्षाप्रद कहानी )
AMRESH KUMAR VERMA
!! परदे हया के !!
!! परदे हया के !!
Chunnu Lal Gupta
दर्द
दर्द
Satish Srijan
याद है पास बिठा के कुछ बाते बताई थी तुम्हे
याद है पास बिठा के कुछ बाते बताई थी तुम्हे
Kumar lalit
अध खिला कली तरुणाई  की गीत सुनाती है।
अध खिला कली तरुणाई की गीत सुनाती है।
Nanki Patre
देखता हूँ बार बार घड़ी की तरफ
देखता हूँ बार बार घड़ी की तरफ
gurudeenverma198
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
Ajay Kumar Vimal
"क्रन्दन"
Dr. Kishan tandon kranti
कभी सरल तो कभी सख़्त होते हैं ।
कभी सरल तो कभी सख़्त होते हैं ।
Neelam Sharma
राष्ट्रपिता
राष्ट्रपिता
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
ये मेरा हिंदुस्तान
ये मेरा हिंदुस्तान
Mamta Rani
बेटी को मत मारो 🙏
बेटी को मत मारो 🙏
Samar babu
ये तो दुनिया है यहाँ लोग बदल जाते है
ये तो दुनिया है यहाँ लोग बदल जाते है
shabina. Naaz
वो क्या देंगे साथ है,
वो क्या देंगे साथ है,
sushil sarna
सागर से दूरी धरो,
सागर से दूरी धरो,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*चित्र में मुस्कान-नकली, प्यार जाना चाहिए 【हिंदी गजल/ गीतिका
*चित्र में मुस्कान-नकली, प्यार जाना चाहिए 【हिंदी गजल/ गीतिका
Ravi Prakash
पहाड़ पर कविता
पहाड़ पर कविता
Brijpal Singh
Colours of heart,
Colours of heart,
DrChandan Medatwal
सफलता
सफलता
Paras Nath Jha
■ निकला नतीजा। फिर न कोई चाचा, न कोई भतीजा।
■ निकला नतीजा। फिर न कोई चाचा, न कोई भतीजा।
*Author प्रणय प्रभात*
3014.*पूर्णिका*
3014.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सांसे केवल आपके जीवित होने की सूचक है जबकि तुम्हारे स्वर्णिम
सांसे केवल आपके जीवित होने की सूचक है जबकि तुम्हारे स्वर्णिम
Rj Anand Prajapati
*......कब तक..... **
*......कब तक..... **
Naushaba Suriya
"ऊँची ऊँची परवाज़ - Flying High"
Sidhartha Mishra
Loading...