Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Oct 2016 · 1 min read

शेर :– मेरे कुछ शेर -भाग -1 !!

शेर :– मेरे कुछ शेर -भाग -1 !!

दर्द दिल से रो पड़ी अब तो कलमें भी यहाँ !
कब तलक लिखते रहेंगे प्यार की ये दास्तां !!

पूज लो उसको यहाँ चाहे खुदा तुम मान कर !
सिरफिरे को सरफरोशी हम मगर कहते नहीँ !!

जिंदगी के इस सफर में चंद लम्हे रह गये !
अनसुनें उलझे यहाँ कुछ अनकहे से रह गए !!

आरजू के हर परों को हमने काटा खुद-व-खुद !
चन्द पैसों में बिकी जब आबरू मेरे वतन की!!

तुमसे बिछड़ के हम यहाँ जिंदा हैं या नहीँ !
मैं सच कहूँ तो ये मुझे शायद पता नहीँ !!

अनुज तिवारी “इन्दवार”

Language: Hindi
Tag: शेर
3 Likes · 1 Comment · 843 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Anuj Tiwari
View all
You may also like:
गर्दिश -ए- दौराँ
गर्दिश -ए- दौराँ
Shyam Sundar Subramanian
2. काश कभी ऐसा हो पाता
2. काश कभी ऐसा हो पाता
Rajeev Dutta
व्यस्तता
व्यस्तता
Surya Barman
बस यूँ ही...
बस यूँ ही...
Neelam Sharma
मन में रख विश्वास,
मन में रख विश्वास,
Anant Yadav
जो संतुष्टि का दास बना, जीवन की संपूर्णता को पायेगा।
जो संतुष्टि का दास बना, जीवन की संपूर्णता को पायेगा।
Manisha Manjari
वक्त से पहले..
वक्त से पहले..
Harminder Kaur
हाइपरटेंशन(ज़िंदगी चवन्नी)
हाइपरटेंशन(ज़िंदगी चवन्नी)
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
केही कथा/इतिहास 'Pen' ले र केही 'Pain' ले लेखिएको पाइन्छ।'Pe
केही कथा/इतिहास 'Pen' ले र केही 'Pain' ले लेखिएको पाइन्छ।'Pe
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
ऐंचकताने    ऐंचकताने
ऐंचकताने ऐंचकताने
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दुख निवारण ब्रह्म सरोवर और हम
दुख निवारण ब्रह्म सरोवर और हम
SATPAL CHAUHAN
हर एक चोट को दिल में संभाल रखा है ।
हर एक चोट को दिल में संभाल रखा है ।
Phool gufran
कब तक यही कहे
कब तक यही कहे
मानक लाल मनु
हम
हम
Dr. Pradeep Kumar Sharma
--फेस बुक की रील--
--फेस बुक की रील--
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
"अन्तर"
Dr. Kishan tandon kranti
■ ख़ास दिन...
■ ख़ास दिन...
*Author प्रणय प्रभात*
Jindagi ko dhabba banaa dalti hai
Jindagi ko dhabba banaa dalti hai
Dr.sima
अभी तो रास्ता शुरू हुआ है।
अभी तो रास्ता शुरू हुआ है।
Ujjwal kumar
इश्क़
इश्क़
लक्ष्मी सिंह
I lose myself in your love,
I lose myself in your love,
Shweta Chanda
💐प्रेम कौतुक-350💐
💐प्रेम कौतुक-350💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सुरसरि-सा निर्मल बहे, कर ले मन में गेह।
सुरसरि-सा निर्मल बहे, कर ले मन में गेह।
डॉ.सीमा अग्रवाल
खुशियों की आँसू वाली सौगात
खुशियों की आँसू वाली सौगात
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अहसान का दे रहा हूं सिला
अहसान का दे रहा हूं सिला
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नया साल
नया साल
Dr fauzia Naseem shad
*जरा-सी धूप जाड़ों की (हिंदी गजल/गीतिका)*
*जरा-सी धूप जाड़ों की (हिंदी गजल/गीतिका)*
Ravi Prakash
अबके तीजा पोरा
अबके तीजा पोरा
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sakshi Tripathi
पत्नी की प्रतिक्रिया
पत्नी की प्रतिक्रिया
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
Loading...