Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Feb 2022 · 1 min read

शारदे माँ

शारदे ! माँ, है नमन ।
चरणों मे तेरे है नमन ।।

वाणी से तेरी वंदना
मैं कर संकू ।
अधर पर आराधना
स्वर धर सकूं ।।
गा मधुर गीतों से तेरी
अर्चना हित दूँ सुमन ।

शारदे ! माँ, है नमन ।
चरणों मे तेरे है नमन ।।

तेरी वीणा के जगत
में गूँजें स्वर ।
तिमिर यह अज्ञान
अन्तस् दूर कर ।।

नव प्रकाशों से भरे नित
ऊर्जित होवे गगन ।
शारदे ! माँ, है नमन ।
चरणों मे तेरे है नमन ।।
– सतीश शर्मा
नरसिंहपुर (म.प्र.)

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Comment · 493 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नव वर्ष का आगाज़
नव वर्ष का आगाज़
Vandna Thakur
मेरी कलम
मेरी कलम
Shekhar Chandra Mitra
मर्दों वाला काम
मर्दों वाला काम
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तब जानोगे
तब जानोगे
विजय कुमार नामदेव
अपने ही  में उलझती जा रही हूँ,
अपने ही में उलझती जा रही हूँ,
Davina Amar Thakral
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
DrLakshman Jha Parimal
■ बस एक ही सवाल...
■ बस एक ही सवाल...
*Author प्रणय प्रभात*
डॉक्टर्स
डॉक्टर्स
Neeraj Agarwal
23/120.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/120.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कुछ इस तरह टुटे है लोगो के नजरअंदाजगी से
कुछ इस तरह टुटे है लोगो के नजरअंदाजगी से
पूर्वार्थ
हिन्दी दोहा लाड़ली
हिन्दी दोहा लाड़ली
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
नमन!
नमन!
Shriyansh Gupta
कविता
कविता
Shiva Awasthi
टन टन
टन टन
SHAMA PARVEEN
ज़िंदगी बेजवाब रहने दो
ज़िंदगी बेजवाब रहने दो
Dr fauzia Naseem shad
मेरा तोता
मेरा तोता
Kanchan Khanna
"प्रपोज डे"
Dr. Kishan tandon kranti
तुम और मैं
तुम और मैं
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
*दो दिन का जीवन रहा, दो दिन का संयोग (कुंडलिया)*
*दो दिन का जीवन रहा, दो दिन का संयोग (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
कुत्ते
कुत्ते
Dr MusafiR BaithA
वो गुलमोहर जो कभी, ख्वाहिशों में गिरा करती थी।
वो गुलमोहर जो कभी, ख्वाहिशों में गिरा करती थी।
Manisha Manjari
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
ruby kumari
*समृद्ध भारत बनायें*
*समृद्ध भारत बनायें*
Poonam Matia
स्त्री चेतन
स्त्री चेतन
Astuti Kumari
💐प्रेम कौतुक-552💐
💐प्रेम कौतुक-552💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रक्त को उबाल दो
रक्त को उबाल दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
था जब सच्चा मीडिया,
था जब सच्चा मीडिया,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मैं नहीं, तू ख़ुश रहीं !
मैं नहीं, तू ख़ुश रहीं !
The_dk_poetry
-शेखर सिंह
-शेखर सिंह
शेखर सिंह
सुबह की नींद सबको प्यारी होती है।
सुबह की नींद सबको प्यारी होती है।
Yogendra Chaturwedi
Loading...