Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Jun 2016 · 1 min read

शायरी तक आ गए

हम जो डूबे प्यार में तो शायरी तक आ गए
भाव दिल के सब उतर कर लेखनी तक आ गए

जीत तो पाये नहीं हम दिल तुम्हारा प्यार में
पर ख़ुशी है हम तुम्हारी दोस्ती तक आ गए

नाम पर अब आधुनिकता के यहाँ पर दोस्तो
नौजवानों के कदम आवारगी तक आ गए

याद की पगडंडियों पर चलते चलते हम यहाँ
अपने पहले प्यार की सँकरी गली तक आ गए

जानते थे प्यार का मतलब नही हम ‘अर्चना’
पर चले जब राह इसकी बन्दग़ी तक आ गए
डॉ अर्चना गुप्ता

942 Views
You may also like:
दिल को कोई फिर
Dr fauzia Naseem shad
दिल और चेहरा
shabina. Naaz
बख़्श दी है जान मेरी, होश में क़ातिल नहीं है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पहला प्यार
Pratibha Kumari
"जटा"कलम को छोड़
Jatashankar Prajapati
बस तू चाहिए
Harshvardhan "आवारा"
✍️मेहरबानी✍️
'अशांत' शेखर
* नियम *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक पत्रकार ( #हिन्दी_कविता)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
'कृषि' (हरिहरण घनाक्षरी)
Godambari Negi
“MAKE FRIENDS QUICKLY, IF YOU DON’T LIKE THEM, UNFRIEND”
DrLakshman Jha Parimal
जल से सीखें
Saraswati Bajpai
जंगल में कवि सम्मेलन
मनोज कर्ण
लाड़ली दर पे आया तो फिर आ गया
Mahesh Tiwari 'Ayen'
'राम-राज'
पंकज कुमार कर्ण
Writing Challenge- प्रेम (Love)
Sahityapedia
ISBN-978-1-989656-10-S ebook
Rashmi Sanjay
गीत
Shiva Awasthi
टीवी मत देखिए
Shekhar Chandra Mitra
हकीकत से रूबरू होता क्यों नहीं
कवि दीपक बवेजा
ये दिल क्या करे।
Taj Mohammad
बदलना भी जरूरी है
Kaur Surinder
आने वाला कल दुनिया में, मुसीबतों का कल होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*वंदन पूज्य गणेश जी (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जिंदगी देखा तुझे है आते औ'र जाते हुए।
सत्य कुमार प्रेमी
सच्चाई का मार्ग
AMRESH KUMAR VERMA
मिट्टी के दीप जलाना
Yash Tanha Shayar Hu
'The Republic Day '- in patriotic way !
Buddha Prakash
सब्र रख
VINOD KUMAR CHAUHAN
ठोडे का खेल
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Loading...