Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Feb 2024 · 1 min read

विचार

विचार

विकास का सही अर्थ है कि देश की जनता को प्रदूषण मुक्त पर्यावरण के साथ साथ शिक्षा देने के बारे में प्रयास किए जाएं ना कि जनता के द्वारा दिये गये टैक्स को गलत दिशा में उपयोग कर आधुनिकता की अंधी दौड़ का हिस्सा बना जाये l

अनिल कुमार गुप्ता अंजुम

1 Like · 93 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
View all
You may also like:
राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳
राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
राना दोहावली- तुलसी
राना दोहावली- तुलसी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
दूध वाले हड़ताल करते हैं।
दूध वाले हड़ताल करते हैं।
शेखर सिंह
तन्हाई
तन्हाई
ओसमणी साहू 'ओश'
सम्भल कर चलना जिंदगी के सफर में....
सम्भल कर चलना जिंदगी के सफर में....
shabina. Naaz
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
आनंद प्रवीण
धरती माँ ने भेज दी
धरती माँ ने भेज दी
Dr Manju Saini
*मेला (बाल कविता)*
*मेला (बाल कविता)*
Ravi Prakash
सावन भादों
सावन भादों
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
वो बचपन था
वो बचपन था
Satish Srijan
*औपचारिकता*
*औपचारिकता*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्रेम के मायने
प्रेम के मायने
Awadhesh Singh
तुझसे कुछ नहीं चाहिये ए जिन्दगीं
तुझसे कुछ नहीं चाहिये ए जिन्दगीं
Jay Dewangan
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
विक्रमादित्य के बत्तीस गुण
Vijay Nagar
मुक्तक
मुक्तक
नूरफातिमा खातून नूरी
🦋 आज की प्रेरणा 🦋
🦋 आज की प्रेरणा 🦋
Tarun Singh Pawar
वो नेमतों की अदाबत है ज़माने की गुलाम है ।
वो नेमतों की अदाबत है ज़माने की गुलाम है ।
Phool gufran
रामभक्त संकटमोचक जय हनुमान जय हनुमान
रामभक्त संकटमोचक जय हनुमान जय हनुमान
gurudeenverma198
सफ़र ज़िंदगी का आसान कीजिए
सफ़र ज़िंदगी का आसान कीजिए
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
बेवजह ही रिश्ता बनाया जाता
बेवजह ही रिश्ता बनाया जाता
Keshav kishor Kumar
वीर पुत्र, तुम प्रियतम
वीर पुत्र, तुम प्रियतम
संजय कुमार संजू
*जो कहता है कहने दो*
*जो कहता है कहने दो*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
प्यारी बहना
प्यारी बहना
Astuti Kumari
मेरा तितलियों से डरना
मेरा तितलियों से डरना
ruby kumari
आज फिर हाथों में गुलाल रह गया
आज फिर हाथों में गुलाल रह गया
Rekha khichi
देखी है ख़ूब मैंने भी दिलदार की अदा
देखी है ख़ूब मैंने भी दिलदार की अदा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"दर्द से दोस्ती"
Dr. Kishan tandon kranti
सावन और साजन
सावन और साजन
Ram Krishan Rastogi
#बन_जाओ_नेता
#बन_जाओ_नेता
*Author प्रणय प्रभात*
हम हिंदुओ का ही हदय
हम हिंदुओ का ही हदय
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...