Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Mar 2024 · 2 min read

लोकतंत्र की आड़ में तानाशाही ?

भारत का राजनीतिक भविष्य क्या है ?
क्या लोकतंत्र की आड़ में तानाशाही की ओर अग्रसर है ?
वर्तमान परिदृश्य में विवेचना प्रस्तुत है :

भारत के राजनीतिक परिदृश्य के भविष्य की भविष्यवाणी करना चुनौतीपूर्ण है, लेकिन विचार करने के लिए कुछ निश्चित रुझान और संभावनाएं हैं। वर्तमान में, भारत नियमित चुनावों और बहुदलीय राजनीतिक संरचना के साथ एक लोकतांत्रिक प्रणाली के तहत काम करता है। हालाँकि, हाल के वर्षों में लोकतांत्रिक मानदंडों और संस्थानों के क्षरण को लेकर चिंताएँ रही हैं।

भारत में वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का प्रभुत्व है। भाजपा 2014 से सत्ता में है और इसकी विचारधारा हिंदू राष्ट्रवाद में निहित है। मोदी के नेतृत्व में, सत्ता का केंद्रीकरण हुआ है, नियंत्रण और संतुलन कमजोर हुआ है और असहमति पर नकेल कसी गई है।

कुछ पर्यवेक्षकों ने लोकतंत्र की आड़ में भारत के अधिनायकवाद या एक प्रकार की तानाशाही की ओर बढ़ने की संभावना के बारे में चिंता जताई है। यह सत्तारूढ़ दल के हाथों में सत्ता के और अधिक संकेंद्रण, नागरिक स्वतंत्रता के क्षरण, स्वतंत्र मीडिया के दमन और न्यायपालिका और कानून प्रवर्तन एजेंसियों जैसे संस्थानों के राजनीतिकरण के माध्यम से प्रकट हो सकता है।

हालाँकि, यह ध्यान रखना आवश्यक है कि भारत की लोकतांत्रिक संस्थाएँ, नागरिक समाज और जीवंत मीडिया परिदृश्य सत्तावादी प्रवृत्तियों को कुछ प्रतिरोध प्रदान करते हैं। इसके अतिरिक्त, लोकतांत्रिक मूल्यों के संरक्षण की वकालत करने वाले विभिन्न राजनीतिक दलों, कार्यकर्ताओं और नागरिकों का विरोध भी हो रहा है।

भारत की राजनीतिक व्यवस्था का भविष्य प्रक्षेपवक्र विभिन्न कारकों पर निर्भर करेगा, जिसमें सत्तारूढ़ दल के कार्य, विपक्षी ताकतों की ताकत, जनता की भावना और बाहरी दबाव शामिल हैं। भारत के लोकतांत्रिक भविष्य की सुरक्षा के लिए नागरिकों के लिए सतर्क रहना, लोकतांत्रिक सिद्धांतों को बनाए रखना और राजनीतिक प्रक्रिया में सक्रिय रूप से भाग लेना महत्वपूर्ण है।

Language: Hindi
Tag: लेख
58 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shyam Sundar Subramanian
View all
You may also like:
शेष कुछ
शेष कुछ
Dr.Priya Soni Khare
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
ज़िंदगी को अगर स्मूथली चलाना हो तो चु...या...पा में संलिप्त
Dr MusafiR BaithA
मेहनत और अभ्यास
मेहनत और अभ्यास
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
लाला अमरनाथ
लाला अमरनाथ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
3487.🌷 *पूर्णिका* 🌷
3487.🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
सर्जिकल स्ट्राइक
सर्जिकल स्ट्राइक
लक्ष्मी सिंह
कलियुग है
कलियुग है
Sanjay ' शून्य'
"मोहे रंग दे"
Ekta chitrangini
आज उम्मीद है के कल अच्छा होगा
आज उम्मीद है के कल अच्छा होगा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हे कृतघ्न मानव!
हे कृतघ्न मानव!
Vishnu Prasad 'panchotiya'
भरोसा
भरोसा
Paras Nath Jha
"आंधी आए अंधड़ आए पर्वत कब डर सकते हैं?
*Author प्रणय प्रभात*
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
बाट तुम्हारी जोहती, कबसे मैं बेचैन।
बाट तुम्हारी जोहती, कबसे मैं बेचैन।
डॉ.सीमा अग्रवाल
तमन्ना है तू।
तमन्ना है तू।
Taj Mohammad
रण
रण
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
दुल्हन एक रात की
दुल्हन एक रात की
Neeraj Agarwal
"बह रही धीरे-धीरे"
Dr. Kishan tandon kranti
*चाँद को भी क़बूल है*
*चाँद को भी क़बूल है*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*नयनों में तुम बस गए, रामलला अभिराम (गीत)*
*नयनों में तुम बस गए, रामलला अभिराम (गीत)*
Ravi Prakash
मेरी मोहब्बत का चाँद
मेरी मोहब्बत का चाँद
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
मैं उसका ही आईना था जहाँ मोहब्बत वो मेरी थी,तो अंदाजा उसे कह
मैं उसका ही आईना था जहाँ मोहब्बत वो मेरी थी,तो अंदाजा उसे कह
AmanTv Editor In Chief
ये भावनाओं का भंवर है डुबो देंगी
ये भावनाओं का भंवर है डुबो देंगी
ruby kumari
चिड़िया!
चिड़िया!
सेजल गोस्वामी
Destiny's epic style.
Destiny's epic style.
Manisha Manjari
जो भी आते हैं वो बस तोड़ के चल देते हैं
जो भी आते हैं वो बस तोड़ के चल देते हैं
अंसार एटवी
मन की कामना
मन की कामना
Basant Bhagawan Roy
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
परम प्रकाश उत्सव कार्तिक मास
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
खुद से खुद को
खुद से खुद को
Dr fauzia Naseem shad
Loading...