Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Mar 2024 · 1 min read

लड़की कभी एक लड़के से सच्चा प्यार नही कर सकती अल्फाज नही ये

लड़की कभी एक लड़के से सच्चा प्यार नही कर सकती अल्फाज नही ये हकीकत है

44 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Jindagi ka kya bharosa,
Jindagi ka kya bharosa,
Sakshi Tripathi
🙅ओनली पूछिंग🙅
🙅ओनली पूछिंग🙅
*Author प्रणय प्रभात*
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
संजीव शुक्ल 'सचिन'
What can you do
What can you do
VINOD CHAUHAN
नारी
नारी
Bodhisatva kastooriya
मुक्तक
मुक्तक
sushil sarna
2964.*पूर्णिका*
2964.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दीप ज्योति जलती है जग उजियारा करती है
दीप ज्योति जलती है जग उजियारा करती है
Umender kumar
अब नहीं पाना तुम्हें
अब नहीं पाना तुम्हें
Saraswati Bajpai
" प्रश्न "
Dr. Kishan tandon kranti
हम साथ साथ चलेंगे
हम साथ साथ चलेंगे
Kavita Chouhan
कलयुगी की रिश्ते है साहब
कलयुगी की रिश्ते है साहब
Harminder Kaur
अगर मैं अपनी बात कहूँ
अगर मैं अपनी बात कहूँ
ruby kumari
एक कमबख्त यादें हैं तेरी !
एक कमबख्त यादें हैं तेरी !
The_dk_poetry
*हमारे ठाठ मत पूछो, पराँठे घर में खाते हैं (मुक्तक)*
*हमारे ठाठ मत पूछो, पराँठे घर में खाते हैं (मुक्तक)*
Ravi Prakash
तुम्हारी आँखें कमाल आँखें
तुम्हारी आँखें कमाल आँखें
Anis Shah
श्रृंगार
श्रृंगार
Dr. Pradeep Kumar Sharma
हथियार बदलने होंगे
हथियार बदलने होंगे
Shekhar Chandra Mitra
तनहाई
तनहाई
Sanjay ' शून्य'
******छोटी चिड़ियाँ*******
******छोटी चिड़ियाँ*******
Dr. Vaishali Verma
प्रभु ने बनवाई रामसेतु माता सीता के खोने पर।
प्रभु ने बनवाई रामसेतु माता सीता के खोने पर।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
जिस तरह से बिना चाहे ग़म मिल जाते है
जिस तरह से बिना चाहे ग़म मिल जाते है
shabina. Naaz
अभिमान  करे काया का , काया काँच समान।
अभिमान करे काया का , काया काँच समान।
Anil chobisa
सत्य और सत्ता
सत्य और सत्ता
विजय कुमार अग्रवाल
गौतम बुद्ध है बड़े महान
गौतम बुद्ध है बड़े महान
Buddha Prakash
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
बुंदेली दोहा-अनमने
बुंदेली दोहा-अनमने
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
आज कुछ अजनबी सा अपना वजूद लगता हैं,
आज कुछ अजनबी सा अपना वजूद लगता हैं,
Jay Dewangan
सर्द मौसम में तेरी गुनगुनी याद
सर्द मौसम में तेरी गुनगुनी याद
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
वो जाने क्या कलाई पर कभी बांधा नहीं है।
वो जाने क्या कलाई पर कभी बांधा नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
Loading...