Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Jun 2023 · 1 min read

साइंस ऑफ लव

साइंस ऑफ़ लव

“सॉरी अनीता जी, टेस्ट रिपोर्ट्स के मुताबिक आपकी किडनी आपके पति के साथ मैच नहीं कर रहा है। जल्द से जल्द यदि एक किडनी की व्यवस्था नहीं की गई, तो उन्हें बचाना मुश्किल होगा।” ऐसा लगा, मानो डॉक्टर साहब ने उसके कानों में गरम लावा उड़ेल दिया हो।
“नहीं… ऐसा नहीं हो सकता डॉक्टर साहब, पिछले तीस साल से जिस किशोर के लिए मेरा दिल धड़कता है, जिसके साथ मेरा रहना, खाना-पीना, उठना-बैठना है, जन्मों के साथ का बंधन है, तो फिर हमारा किडनी कैसे मैच नहीं करेगा ?
मैं नहीं मानती इस रिपोर्ट को। प्लीज, आप फिर से मेरा टेस्ट कीजिए।” वह पागलों की तरह डॉक्टर के पैर पकड़ कर गिड़गिड़ाने लगी थी।
अनीता की जिद और विश्वास के आगे डॉक्टरों को झुकना पड़ा। दुबारा टेस्ट किया गया।
अनीता के प्यार और विश्वास के आगे डॉक्टर ही नहीं, साइंस को भी झुकना पड़ा। इस बार अप्रत्याशित रूप से दोनों का किडनी मैच कर गया।
सफल किडनी ट्रांसप्लांट के बाद आज पति-पत्नी दोनों एक-एक किडनी के सहारे सुखमय जीवन बिता रहे हैं।
– डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा
रायपुर, छत्तीसगढ़

Language: Hindi
269 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
काव्य भावना
काव्य भावना
Shyam Sundar Subramanian
विश्वकप-2023 टॉप स्टोरी
विश्वकप-2023 टॉप स्टोरी
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
*जिंदगी के कुछ कड़वे सच*
*जिंदगी के कुछ कड़वे सच*
Sûrëkhâ Rãthí
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
Keshav kishor Kumar
कुंडलिया
कुंडलिया
दुष्यन्त 'बाबा'
■नया दौर, नई नस्ल■
■नया दौर, नई नस्ल■
*Author प्रणय प्रभात*
जमाना इस कदर खफा  है हमसे,
जमाना इस कदर खफा है हमसे,
Yogendra Chaturwedi
हमें लगा  कि वो, गए-गुजरे निकले
हमें लगा कि वो, गए-गुजरे निकले
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
पहला श्लोक ( भगवत गीता )
पहला श्लोक ( भगवत गीता )
Bhupendra Rawat
वो छोटी सी खिड़की- अमूल्य रतन
वो छोटी सी खिड़की- अमूल्य रतन
Amulyaa Ratan
मातु काल रात्रि
मातु काल रात्रि
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
खाते मोबाइल रहे, हम या हमको दुष्ट (कुंडलिया)
खाते मोबाइल रहे, हम या हमको दुष्ट (कुंडलिया)
Ravi Prakash
माया मोह के दलदल से
माया मोह के दलदल से
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जीवन में कोई भी फैसला लें
जीवन में कोई भी फैसला लें
Dr fauzia Naseem shad
संगीत........... जीवन हैं
संगीत........... जीवन हैं
Neeraj Agarwal
ग़ज़ल- मशालें हाथ में लेकर ॲंधेरा ढूॅंढने निकले...
ग़ज़ल- मशालें हाथ में लेकर ॲंधेरा ढूॅंढने निकले...
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
VINOD CHAUHAN
भैतिक सुखों का आनन्द लीजिए,
भैतिक सुखों का आनन्द लीजिए,
Satish Srijan
तारीख
तारीख
Dr. Seema Varma
"तुम्हारे रहने से"
Dr. Kishan tandon kranti
औरों की तरह हर्फ़ नहीं हैं अपना;
औरों की तरह हर्फ़ नहीं हैं अपना;
manjula chauhan
दानवीरता की मिशाल : नगरमाता बिन्नीबाई सोनकर
दानवीरता की मिशाल : नगरमाता बिन्नीबाई सोनकर
Dr. Pradeep Kumar Sharma
2388.पूर्णिका
2388.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
एक ही दिन में पढ़ लोगे
एक ही दिन में पढ़ लोगे
हिमांशु Kulshrestha
Sadiyo purani aas thi tujhe pane ki ,
Sadiyo purani aas thi tujhe pane ki ,
Sakshi Tripathi
राज्याभिषेक
राज्याभिषेक
Paras Nath Jha
नववर्ष।
नववर्ष।
Manisha Manjari
💐प्रेम कौतुक-233💐
💐प्रेम कौतुक-233💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मस्ती का माहौल है,
मस्ती का माहौल है,
sushil sarna
पेड़ लगाओ तुम ....
पेड़ लगाओ तुम ....
जगदीश लववंशी
Loading...