Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Aug 2023 · 1 min read

रूप अलौकिक हे!जगपालक, व्यापक हो तुम नन्द कुमार।

रूप अलौकिक हे!जगपालक, व्यापक हो तुम नन्द कुमार।
मातु यशोमति के ललना अब, लो सुनलो प्रभु भक्त पुकार।
पाप बढ़ा जब आज धरा पर, आन बसो भव है; मनुहार।
नाथ सहाय सदा रहिए हम, जान गये तुम एक उदार।।

✍️ संजीव शुक्ल ‘सचिन’ (नादान)

291 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from संजीव शुक्ल 'सचिन'
View all
You may also like:
शिवरात्रि
शिवरात्रि
Madhu Shah
कविता: माँ मुझको किताब मंगा दो, मैं भी पढ़ने जाऊंगा।
कविता: माँ मुझको किताब मंगा दो, मैं भी पढ़ने जाऊंगा।
Rajesh Kumar Arjun
मित्र
मित्र
लक्ष्मी सिंह
जिंदगी और रेलगाड़ी
जिंदगी और रेलगाड़ी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
There are instances that people will instantly turn their ba
There are instances that people will instantly turn their ba
पूर्वार्थ
*
*"आज फिर जरूरत है तेरी"*
Shashi kala vyas
कोई मिले जो  गले लगा ले
कोई मिले जो गले लगा ले
गुमनाम 'बाबा'
*समय*
*समय*
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
औरत
औरत
नूरफातिमा खातून नूरी
क्या गुजरती होगी उस दिल पर
क्या गुजरती होगी उस दिल पर
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
❤️ मिलेंगे फिर किसी रोज सुबह-ए-गांव की गलियो में
❤️ मिलेंगे फिर किसी रोज सुबह-ए-गांव की गलियो में
शिव प्रताप लोधी
वो पढ़ लेगा मुझको
वो पढ़ लेगा मुझको
Dr fauzia Naseem shad
23/173.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/173.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तुमको सोचकर जवाब दूंगा
तुमको सोचकर जवाब दूंगा
gurudeenverma198
वनिता
वनिता
Satish Srijan
*आई भादों अष्टमी, कृष्ण पक्ष की रात (कुंडलिया)*
*आई भादों अष्टमी, कृष्ण पक्ष की रात (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
"" *भारत* ""
सुनीलानंद महंत
फूल तितली भंवरे जुगनू
फूल तितली भंवरे जुगनू
VINOD CHAUHAN
🪸 *मजलूम* 🪸
🪸 *मजलूम* 🪸
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
जीवन मर्म
जीवन मर्म
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
अंधा बांटे रेबड़ी, फिर फिर अपनों के देवे – कहावत/ DR. MUSAFIR BAITHA
अंधा बांटे रेबड़ी, फिर फिर अपनों के देवे – कहावत/ DR. MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
भगवान
भगवान
Anil chobisa
गणित का एक कठिन प्रश्न ये भी
गणित का एक कठिन प्रश्न ये भी
शेखर सिंह
मोर
मोर
Manu Vashistha
राजयोग आलस्य का,
राजयोग आलस्य का,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जय हनुमान
जय हनुमान
Santosh Shrivastava
"नजरिया"
Dr. Kishan tandon kranti
👍संदेश👍
👍संदेश👍
*प्रणय प्रभात*
हास्य का प्रहार लोगों पर न करना
हास्य का प्रहार लोगों पर न करना
DrLakshman Jha Parimal
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...