Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jul 2020 · 1 min read

रुत प्यार की

******** रुत प्यार की ********
***************************

आ गई है देखो फिर , रुत प्यार की
प्रेमी परिंदों के पर , रुत प्यार की

कस लीजिएगा कमर , रहे ना कसर
शुरू कर दीजिए सफर रुत प्यार की

पंछियोंं ने भी नीड़ हैं छोड़ दिए
पकड़ लीजिए ये डगर,रुत प्यार की

भावनाओं को राह मिल जाएगी
नेह की पड़ी है नजर,रुत प्यार की

अरसे से सब जैसे बंधें से हों
खोल दीजिए जंजीर , रुत प्यार की

तारीकी के बाँध टूट जाएंगे
प्रयास करो प्रखर , रुत प्यार की

सुखविन्द्र भी प्रेम से अछूता नहीं
चाहे कुछ भी हो हसर,रुत प्यार की
**************************
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (कैथल)

2 Likes · 2 Comments · 340 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ज़िंदगी के तजुर्बे खा गए बचपन मेरा,
ज़िंदगी के तजुर्बे खा गए बचपन मेरा,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
भुलक्कड़ मामा
भुलक्कड़ मामा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ख्वाब नाज़ुक हैं
ख्वाब नाज़ुक हैं
rkchaudhary2012
महामानव पंडित दीनदयाल उपाध्याय
महामानव पंडित दीनदयाल उपाध्याय
Indu Singh
मेरे नयनों में जल है।
मेरे नयनों में जल है।
Kumar Kalhans
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मेरे जज़्बात को चिराग कहने लगे
मेरे जज़्बात को चिराग कहने लगे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हिंदी
हिंदी
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Where is love?
Where is love?
Otteri Selvakumar
मार्गदर्शन होना भाग्य की बात है
मार्गदर्शन होना भाग्य की बात है
Harminder Kaur
जै जै अम्बे
जै जै अम्बे
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
पल्लवित प्रेम
पल्लवित प्रेम
Er.Navaneet R Shandily
बाल कविता: मोटर कार
बाल कविता: मोटर कार
Rajesh Kumar Arjun
ढूंढा तुम्हे दरबदर, मांगा मंदिर मस्जिद मजार में
ढूंढा तुम्हे दरबदर, मांगा मंदिर मस्जिद मजार में
Kumar lalit
आंगन की किलकारी बेटी,
आंगन की किलकारी बेटी,
Vindhya Prakash Mishra
दाना
दाना
Satish Srijan
जीवन : एक अद्वितीय यात्रा
जीवन : एक अद्वितीय यात्रा
Mukta Rashmi
शहीद की अंतिम यात्रा
शहीद की अंतिम यात्रा
Nishant Kumar Mishra
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जिंदगी भर किया इंतजार
जिंदगी भर किया इंतजार
पूर्वार्थ
खुदा किसी को किसी पर फ़िदा ना करें
खुदा किसी को किसी पर फ़िदा ना करें
$úDhÁ MãÚ₹Yá
अंबर तारों से भरा, फिर भी काली रात।
अंबर तारों से भरा, फिर भी काली रात।
लक्ष्मी सिंह
फितरत
फितरत
Srishty Bansal
देव्यपराधक्षमापन स्तोत्रम
देव्यपराधक्षमापन स्तोत्रम
पंकज प्रियम
काँटों ने हौले से चुभती बात कही
काँटों ने हौले से चुभती बात कही
Atul "Krishn"
अन्तर मन में उबल रही  है, हर गली गली की ज्वाला ,
अन्तर मन में उबल रही है, हर गली गली की ज्वाला ,
Neelofar Khan
मैं भी आज किसी से प्यार में हूँ
मैं भी आज किसी से प्यार में हूँ
VINOD CHAUHAN
साथ मेरे था
साथ मेरे था
Dr fauzia Naseem shad
साहित्य का बुनियादी सरोकार +रमेशराज
साहित्य का बुनियादी सरोकार +रमेशराज
कवि रमेशराज
पृथ्वी की दरारें
पृथ्वी की दरारें
Santosh Shrivastava
Loading...