Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Sep 2023 · 1 min read

राम राम सिया राम

बोलो राम राम सिया राम,
लखन जी,
राम राम सिया राम।
राम कहेंगे सिया राम कहेंगे,
भजेगें सुबहो शाम।
बोलो राम राम सिया . . . . . .
हाथ जोड़ कर खड़ा है ये जग,
तुम तो हो, प्रभु दाता।
पापी दुखियो के भाग संवारो,
ऐ मेरे भाग्य विधाता।
राम कहेंगे तुझे श्याम कहेंगे,
करेगें हम परणाम।
बोलो राम राम सिया . . . . . .
तुम तो हो प्रभु नाथ जगत के,
हम है तुम्हारे दासा।
दुख संताप को दूर करो प्रभु,
आये शरण लेके आशा।
कष्ट मिटेंगे संताप रहेंगे,
बनेंगे बिगड़े काम।
बोलो राम राम सिया . . . . . .

204 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from नेताम आर सी
View all
You may also like:
मैं इस कदर हो गया हूँ पागल,तेरे प्यार में ।
मैं इस कदर हो गया हूँ पागल,तेरे प्यार में ।
Dr. Man Mohan Krishna
सबनम की तरहा दिल पे तेरे छा ही जाऊंगा
सबनम की तरहा दिल पे तेरे छा ही जाऊंगा
Anand Sharma
यादों के छांव
यादों के छांव
Nanki Patre
तैराक हम गहरे पानी के,
तैराक हम गहरे पानी के,
Aruna Dogra Sharma
कुछ लोग बहुत पास थे,अच्छे नहीं लगे,,
कुछ लोग बहुत पास थे,अच्छे नहीं लगे,,
Shweta Soni
💐अज्ञात के प्रति-142💐
💐अज्ञात के प्रति-142💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"लोकतंत्र के मंदिर" में
*Author प्रणय प्रभात*
फूल और कांटे
फूल और कांटे
अखिलेश 'अखिल'
बगावत की बात
बगावत की बात
AJAY PRASAD
कल तक जो थे हमारे, अब हो गए विचारे।
कल तक जो थे हमारे, अब हो गए विचारे।
सत्य कुमार प्रेमी
पर्यावरण दिवस
पर्यावरण दिवस
Satish Srijan
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
परिवार होना चाहिए
परिवार होना चाहिए
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
मन की गति
मन की गति
Dr. Kishan tandon kranti
*ऐलान – ए – इश्क *
*ऐलान – ए – इश्क *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
लड़की
लड़की
Dr. Pradeep Kumar Sharma
पहला प्यार
पहला प्यार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
गमों ने जिन्दगी को जीना सिखा दिया है।
गमों ने जिन्दगी को जीना सिखा दिया है।
Taj Mohammad
"सफर,रुकावटें,और हौसले"
Yogendra Chaturwedi
दूसरों का दर्द महसूस करने वाला इंसान ही
दूसरों का दर्द महसूस करने वाला इंसान ही
shabina. Naaz
Love is like the wind
Love is like the wind
Vandana maurya
मैं उसका ही आईना था जहाँ मोहब्बत वो मेरी थी,तो अंदाजा उसे कह
मैं उसका ही आईना था जहाँ मोहब्बत वो मेरी थी,तो अंदाजा उसे कह
AmanTv Editor In Chief
सेंधी दोहे
सेंधी दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नफ़रत सहना भी आसान हैं.....⁠♡
नफ़रत सहना भी आसान हैं.....⁠♡
ओसमणी साहू 'ओश'
*बहुत कठिन डगर जीवन की*
*बहुत कठिन डगर जीवन की*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
अलसाई शाम और तुमसे मोहब्बत करने की आज़ादी में खुद को ढूँढना
अलसाई शाम और तुमसे मोहब्बत करने की आज़ादी में खुद को ढूँढना
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
"मित्र से वार्ता"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
मेरी तकलीफ़ पे तुझको भी रोना चाहिए।
मेरी तकलीफ़ पे तुझको भी रोना चाहिए।
पूर्वार्थ
3156.*पूर्णिका*
3156.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...