Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jan 2024 · 1 min read

रामराज्य

घेर रखा था जग को जब विपदाओं ने,
घुटने ही टेक दिए थे कई सभ्यताओं ने।
विश्व ने ऐसा समीकरण कहीं ओर न देखा होगा,
राज किया था एक राज्य पर चरण पादुकाओं ने।।

Language: Hindi
83 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*अम्मा जी से भेंट*
*अम्मा जी से भेंट*
Ravi Prakash
"अंकों की भाषा"
Dr. Kishan tandon kranti
बेटियां
बेटियां
Dr Parveen Thakur
नज़रें!
नज़रें!
कविता झा ‘गीत’
राष्ट्र निर्माता गुरु
राष्ट्र निर्माता गुरु
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मुखौटे
मुखौटे
Shaily
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
- अपनो का स्वार्थीपन -
- अपनो का स्वार्थीपन -
bharat gehlot
Subah ki hva suru hui,
Subah ki hva suru hui,
Stuti tiwari
अभी मेरी बरबादियों का दौर है
अभी मेरी बरबादियों का दौर है
पूर्वार्थ
सर्दियों की धूप
सर्दियों की धूप
Vandna Thakur
मैं बदलना अगर नहीं चाहूँ
मैं बदलना अगर नहीं चाहूँ
Dr fauzia Naseem shad
जो लम्हें प्यार से जिया जाए,
जो लम्हें प्यार से जिया जाए,
Buddha Prakash
■ दुर्भाग्य
■ दुर्भाग्य
*Author प्रणय प्रभात*
दवा और दुआ में इतना फर्क है कि-
दवा और दुआ में इतना फर्क है कि-
संतोष बरमैया जय
3282.*पूर्णिका*
3282.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कृपया मेरी सहायता करो...
कृपया मेरी सहायता करो...
Srishty Bansal
कलयुग और सतयुग
कलयुग और सतयुग
Mamta Rani
Even If I Ever Died
Even If I Ever Died
Manisha Manjari
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
Johnny Ahmed 'क़ैस'
यादें
यादें
Versha Varshney
"रामनवमी पर्व 2023"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
ज़िंदगी मेरी दर्द की सुनामी बनकर उभरी है
ज़िंदगी मेरी दर्द की सुनामी बनकर उभरी है
Bhupendra Rawat
*बाल गीत (सपना)*
*बाल गीत (सपना)*
Rituraj shivem verma
प्रभु रामलला , फिर मुस्काये!
प्रभु रामलला , फिर मुस्काये!
Kuldeep mishra (KD)
अधर्म का उत्पात
अधर्म का उत्पात
Dr. Harvinder Singh Bakshi
युद्ध के स्याह पक्ष
युद्ध के स्याह पक्ष
Aman Kumar Holy
उम्मीद की आँखों से अगर देख रहे हो,
उम्मीद की आँखों से अगर देख रहे हो,
Shweta Soni
अच्छा खाना
अच्छा खाना
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
Loading...