Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Sep 2022 · 1 min read

रहना सम्भलकर यारों

रहना सम्भलकर यारों, आई है बाढ़ लुटेरों की।
मुश्किल है इनकी पहचान, यारों इन लुटेरों की।।
रहना सम्भलकर यारों———————-।।

रंगीन है इनकी दुनिया, चेहरे इनके सतरंगी है।
रहते हैं बनकर ये नवाब,ये ऐसे कीट पतंगी है।।
फरेबी है इनकी चालें, यारों इन जेब कतरों की।
मुश्किल है इनकी पहचान, यारों इन लुटेरों की।।
रहना सम्भलकर यारों——————–।।

मीठे बहुत है इनके बोल,नहीं इनका कोई ठिकाना है।
मौजूद हैं हर स्वरूप में ये, दिखाते रंगीन सपना है।।
रसूखदारों से दोस्ती, होती है इन गद्दारों की।
मुश्किल है इनकी पहचान, यारों इन लुटेरों की।।
रहना सम्भलकर यारों———————-।।

फायदा ये उठाते हैं, बेरोजगार मुफलिसों का।
कर देते हैं जीवन बर्बाद, ये लोग मजबूरों का।।
होती है बहुत शातिर गैंग, यारों इन शातिरों की।
मुश्किल है इनकी पहचान, यारों इन लुटेरों की।।
रहना सम्भलकर यारों———————-।।

शिक्षक एवं साहित्यकार-
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)
मोबाईल नम्बर- 9571070847

Language: Hindi
Tag: गीत
142 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
साधना से सिद्धि.....
साधना से सिद्धि.....
Santosh Soni
निःशुल्क
निःशुल्क
Dr. Kishan tandon kranti
वह एक वस्तु,
वह एक वस्तु,
Shweta Soni
20. सादा
20. सादा
Rajeev Dutta
हौसले हो अगर बुलंद तो मुट्ठि में हर मुकाम हैं,
हौसले हो अगर बुलंद तो मुट्ठि में हर मुकाम हैं,
Jay Dewangan
ہر طرف رنج ہے، آلام ہے، تنہائی ہے
ہر طرف رنج ہے، آلام ہے، تنہائی ہے
अरशद रसूल बदायूंनी
तुम्हारी आंखों का रंग हमे भाता है
तुम्हारी आंखों का रंग हमे भाता है
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
बदल गया जमाना🌏🙅🌐
बदल गया जमाना🌏🙅🌐
डॉ० रोहित कौशिक
Job can change your vegetables.
Job can change your vegetables.
सिद्धार्थ गोरखपुरी
लगन लगे जब नेह की,
लगन लगे जब नेह की,
Rashmi Sanjay
पहला कदम
पहला कदम
प्रकाश जुयाल 'मुकेश'
सम्मान में किसी के झुकना अपमान नही होता
सम्मान में किसी के झुकना अपमान नही होता
Kumar lalit
3255.*पूर्णिका*
3255.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sakshi Tripathi
वेला
वेला
Sangeeta Beniwal
आखिर वो तो जीते हैं जीवन, फिर क्यों नहीं खुश हम जीवन से
आखिर वो तो जीते हैं जीवन, फिर क्यों नहीं खुश हम जीवन से
gurudeenverma198
"What comes easy won't last,
पूर्वार्थ
मैं भारत का जवान हूं...
मैं भारत का जवान हूं...
AMRESH KUMAR VERMA
*आवारा या पालतू, कुत्ते सब खूॅंखार (कुंडलिया)*
*आवारा या पालतू, कुत्ते सब खूॅंखार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
The Saga Of That Unforgettable Pain
The Saga Of That Unforgettable Pain
Manisha Manjari
ऐसे साथ की जरूरत
ऐसे साथ की जरूरत
Vandna Thakur
अपने योग्यता पर घमंड होना कुछ हद तक अच्छा है,
अपने योग्यता पर घमंड होना कुछ हद तक अच्छा है,
Aditya Prakash
💐अज्ञात के प्रति-99💐
💐अज्ञात के प्रति-99💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गर्मी आई
गर्मी आई
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कदम बढ़ाकर मुड़ना भी आसान कहां था।
कदम बढ़ाकर मुड़ना भी आसान कहां था।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
प्रशांत सोलंकी
प्रशांत सोलंकी
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Mamta Rani
मजा मुस्कुराने का लेते वही...
मजा मुस्कुराने का लेते वही...
Sunil Suman
दोहा त्रयी. . . शीत
दोहा त्रयी. . . शीत
sushil sarna
■ मुस्कान में भगवान...
■ मुस्कान में भगवान...
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...