Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jul 2016 · 1 min read

यूं ही

एक नजर……आज यूँ ही पर……………..आपकी नजर

न दे तू इल्जाम हवाओं को यूँ ही
रोक कुछ देर फिजाओं को यूँ ही
**************************
मैने ये कब कहा कि लौटूंगा नही
रोक कुछ देर तमन्नाओ को यूँ ही
**************************
कपिल कुमार
15/02/2016

Language: Hindi
Tag: मुक्तक
4 Comments · 157 Views
You may also like:
वह प्यार कैसा होगा
Anamika Singh
ग्रीष्म की तपन
डॉ. रजनी अग्रवाल 'वाग्देवी रत्ना'
करो व्यायाम
Buddha Prakash
बाधाओं से लड़ना होगा
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
जिसे पाया नहीं मैंने
Dr fauzia Naseem shad
तुमसे बिछड़ के दिल को ठिकाना नहीं मिला
Dr Archana Gupta
"रावण की पुकार"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
"रिश्ते"
Ajit Kumar "Karn"
क्योंकि, हिंदुस्तान हैं हम !
Palak Shreya
प्यार का रंग (सजल)
Rambali Mishra
*पितृदेव (गीत)*
Ravi Prakash
हिंदी दोहा विषय- विजय*
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
एक लड़का
Shiva Awasthi
दुःस्वप्न
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
करूँगा तुमको मैं प्यार तब
gurudeenverma198
दिल करता है तितली बनूं
Kaur Surinder
सूरत -ए -शिवाला
सिद्धार्थ गोरखपुरी
✍️कश्मकश भरी ज़िंदगी ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
मंज़िल
Ray's Gupta
कैसी ख्वाईश अब
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
ऐ बादल अब तो बरस जाओ ना
नूरफातिमा खातून नूरी
मीडिया की जवाबदेही
Shekhar Chandra Mitra
काल के चक्रों ने भी, ऐसे यथार्थ दिखाए हैं।
Manisha Manjari
जवानी में तो तुमने भी गजब ढाया होगा
Ram Krishan Rastogi
*परम चैतन्य*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चिलचिलती धूप
Nishant prakhar
■ सब त्रिकालदर्शी
*Author प्रणय प्रभात*
" जननायक "
DrLakshman Jha Parimal
इश्क का गम।
Taj Mohammad
हर आईना मुझे ही दिखाता है
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...