Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Feb 2023 · 1 min read

मौसम नहीं बदलते हैं मन बदलना पड़ता है

मौसम नहीं बदलते हैं
मन बदलना पड़ता है

रास्ते नहीं चलते कभी
हमें ही चलना पड़ता है

आसानी से यहां कुछ
हासिल नहीं होता है

अपने सपनों खातिर
हमें मचलना पड़ता है

रोशनी लाने खातिर ..
रातो से लड़ना पड़ता है

मुकाम पाने को कभी
पैदल चलना पड़ता है

वीर शिवा के वंशज है
हार कर क्यों बैठ जाएं

अगर कभी हार जाओ
फिर से लडना पड़ता है

अगर तुम चाहते हो
आसमानों में उड़ना

हालातों का पिंजरे को
तोड़ निकलना पड़ता है

भक्ति की परीक्षा हो तो
अग्नि में चलना पड़ता है

सोने सा आदर पाना है
अग्नि में जलना पड़ता है

✍कवि दीपक सरल

Language: Hindi
2 Likes · 2 Comments · 117 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
" कटु सत्य "
DrLakshman Jha Parimal
दिल कि आवाज
दिल कि आवाज
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
अध्यापक :-बच्चों रामचंद्र जी ने समुद्र पर पुल बनाने का निर्ण
अध्यापक :-बच्चों रामचंद्र जी ने समुद्र पर पुल बनाने का निर्ण
Rituraj shivem verma
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मां
मां
Ankita Patel
मुझे दूसरे के अखाड़े में
मुझे दूसरे के अखाड़े में
*Author प्रणय प्रभात*
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
Harminder Kaur
अतीत
अतीत
Shyam Sundar Subramanian
हिन्दू जागरण गीत
हिन्दू जागरण गीत
मनोज कर्ण
"फेड्डल और अव्वल"
Dr. Kishan tandon kranti
*
*"हिंदी"*
Shashi kala vyas
कौन पंखे से बाँध देता है
कौन पंखे से बाँध देता है
Aadarsh Dubey
"सन्त रविदास जयन्ती" 24/02/2024 पर विशेष ...
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
प्रोटोकॉल
प्रोटोकॉल
Dr. Pradeep Kumar Sharma
23/24.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/24.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
काश
काश
लक्ष्मी सिंह
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
Arghyadeep Chakraborty
दुनिया में लोग अब कुछ अच्छा नहीं करते
दुनिया में लोग अब कुछ अच्छा नहीं करते
shabina. Naaz
कृतघ्न व्यक्ति आप के सत्कर्म को अपकर्म में बदलता रहेगा और आप
कृतघ्न व्यक्ति आप के सत्कर्म को अपकर्म में बदलता रहेगा और आप
Sanjay ' शून्य'
घनघोर इस अंधेरे में, वो उजाला कितना सफल होगा,
घनघोर इस अंधेरे में, वो उजाला कितना सफल होगा,
Sonam Pundir
ये उम्र के निशाँ नहीं दर्द की लकीरें हैं
ये उम्र के निशाँ नहीं दर्द की लकीरें हैं
Atul "Krishn"
हो भासा विग्यानी।
हो भासा विग्यानी।
Acharya Rama Nand Mandal
आनंद और इच्छा में जो उलझ जाओगे
आनंद और इच्छा में जो उलझ जाओगे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जब आसमान पर बादल हों,
जब आसमान पर बादल हों,
Shweta Soni
पानी
पानी
Er. Sanjay Shrivastava
मैं अचानक चुप हो जाती हूँ
मैं अचानक चुप हो जाती हूँ
ruby kumari
इंसान अपनी ही आदतों का गुलाम है।
इंसान अपनी ही आदतों का गुलाम है।
Sangeeta Beniwal
बना देता है बिगड़ी सब, इशारा उसका काफी है (मुक्तक)
बना देता है बिगड़ी सब, इशारा उसका काफी है (मुक्तक)
Ravi Prakash
"जय जवान जय किसान" - आर्टिस्ट (कुमार श्रवण)
Shravan singh
Them: Binge social media
Them: Binge social media
पूर्वार्थ
Loading...