Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Jul 2016 · 1 min read

मॉर्निंग वॉक..

1….कलियाँ फूल पत्ते झुकी डालियाँ और बहती शीतल हवायें
सुबह सुबह की चहल कदमी में मिलती ये सेहत की दवायें

2
मॉर्निंग वॉक करके मैं तो मीत आया हूँ
जैसे सूरज को ही आज जीत आया हूँ

3.

सुबह सुबह की चहल कदमी ही लगने लगी अब कारगार
सेहत को तंदरुस्त रखने का इससे नही कोई उपाय धारदार

“दिनेश”

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Comment · 219 Views
You may also like:
तुम्हें सुकूँ सा मिले।
Taj Mohammad
# दोस्त .....
Chinta netam " मन "
चिड़िया का घोंसला
DESH RAJ
उस पार
shabina. Naaz
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
लिख दो ऐसा गीत प्रेम का, हर बाला राधा हो...
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"तुम हक़ीक़त हो ख़्वाब हो या लिखी हुई कोई ख़ुबसूरत...
Lohit Tamta
लाल टोपी
मनोज कर्ण
प्यार अंधा होता है
Anamika Singh
" जंगल की दुनिया "
Dr Meenu Poonia
धूप
Saraswati Bajpai
कड़वा है पर सत्य से भरा है।
Manisha Manjari
हिंदी का गुणगान
जगदीश लववंशी
प्यार अंधा होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
“NEW ABORTION LAW IN AMERICA SNATCHES THE RIGHT OF WOMEN”
DrLakshman Jha Parimal
ज़िंदगी पर लिखी शायरी
Dr fauzia Naseem shad
धरती से मिलने को बादल जब भी रोने लग गया।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
ढलती जाती ज़िन्दगी
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
दो पल मोहब्बत
श्री रमण 'श्रीपद्'
गधा
Buddha Prakash
💐💐एक मुलाकात की बात ही तो है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जिम्मेदारी किसकी?
Shekhar Chandra Mitra
*पत्नी ही प्रेयसी है (गीतिका)*
Ravi Prakash
मुझसे बचकर वह अब जायेगा कहां
Ram Krishan Rastogi
तलाश
Seema 'Tu hai na'
प्यारा तिरंगा
ओनिका सेतिया 'अनु '
मैं छोटी नन्हीं सी गुड़िया ।
लक्ष्मी सिंह
कॉर्पोरेट जगत और पॉलिटिक्स
AJAY AMITABH SUMAN
फल
Aditya Prakash
Loading...