Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#29 Trending Author
Jul 4, 2022 · 1 min read

मैं कही रो ना दूँ

अगर तु ना मिले मुझे
मैं कही रो ना दूँ।
जो है मेरे पास
कही उसे भी मैं खो ना दूँ।

हे दर्द सीने में इतना ।।
ना देखु तुझे कही
अपना आपा भी मैं खो ना दूँ।
देख तुझे कही
होश भी अपना, मैं खो ना दूँ।

हे जो दिल में मेरे
लगता हे अब ऐसा क्यो?
पाके तुझे सचमुच कही
तुझे मैं खो ना दूँ।
अगर तु ना मिले मुझे
मैं कही रो ना दूँ।
जो हे मेरे पास
कही उसे भी मैं
खो ना दूँ।…….

74 Views
You may also like:
उसे चाहना
Nitu Sah
✍️✍️रंग✍️✍️
'अशांत' शेखर
.✍️साथीला तूच हवे✍️
'अशांत' शेखर
बी एफ
Ashwani Kumar Jaiswal
वक्त और दिन
DESH RAJ
छंदानुगामिनी( गीतिका संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
खंडहर में अब खोज रहे ।
Buddha Prakash
Time never returns
Buddha Prakash
डॉक्टर की दवाई
Buddha Prakash
गुनहगार बन गए है।
Taj Mohammad
कविता –सच्चाई से मुकर न जाना
रकमिश सुल्तानपुरी
*जो हुकुम सरकार (गीतिका)*
Ravi Prakash
*** घर के आंगन की फुलवारी ***
Swami Ganganiya
मेरी बेटी है, मेरा वारिस।
लक्ष्मी सिंह
अनुपम माँ का स्नेह
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
नहीं रहे "कहो न प्यार है" के गीतकार व हरदिल...
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दो पल मोहब्बत
श्री रमण 'श्रीपद्'
बंदर भैया
Buddha Prakash
दोस्ती का एहसास होता है
Dr fauzia Naseem shad
दुनिया
Rashmi Sanjay
विधि के दो वरदान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
श्रंगार के वियोगी कवि श्री मुन्नू लाल शर्मा और उनकी...
Ravi Prakash
हिंसा की आग 🔥
मनोज कर्ण
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
✍️मैं जब पी लेता हूँ✍️
'अशांत' शेखर
मित्र
Vijaykumar Gundal
एहसास पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
मैं बेटी हूँ।
Anamika Singh
प्रेम रस रिमझिम बरस
श्री रमण 'श्रीपद्'
✍️बस इतनी सी ख्वाईश✍️
'अशांत' शेखर
Loading...