Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Feb 2024 · 1 min read

मेरा लड्डू गोपाल

मेरा लड्डू गोपाल कितना प्यारा है
क्या बताऊँ💐💐😊
एक दिन की बात बताऊँ….
इतना नटखट ,इतना प्यारा
मेरा कृष्ण कन्हैया…
भोग में खिलाने को कुछ
घर में ना था….मन इतना बैचेन था
क्या करूं……
क्या खिलाऊँ… अपने कृष्णा को…
तो सोचा आज चीनी और मलाई
खिला दु…
जब मैं छोटी थी तो मेरी माँ मुझे यही देती थी…
तो मैंने यही कान्हा जी को खिलाने को
अपने पति को बोला….
वो भी कहा कम है….
उन्होंने सोचा थोड़ी देर में खिलाऊँगा….
बस फिर क्या था …..
चीनी मलाई की कटोरी गिर गई ☺️☺️☺️☺️☺️
और मेरा लड्डू गोपाल …..चीनी मलाई में नहा गया….
मेरी हँसी न रुक रही थी
की लड़डू को भी चीनी मलाई अच्छी लगती हैं।
हैना मेरा लड़डू कितना प्यारा 💐💐💐💐

Language: Hindi
2 Likes · 72 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बाढ़
बाढ़
Dr.Pratibha Prakash
क्या लिखूँ....???
क्या लिखूँ....???
Kanchan Khanna
"ख़राब किस्मत" इंसान को
*Author प्रणय प्रभात*
बीते साल को भूल जाए
बीते साल को भूल जाए
Ranjeet kumar patre
शायर जानता है
शायर जानता है
Nanki Patre
कुछ नींदों से ख़्वाब उड़ जाते हैं
कुछ नींदों से ख़्वाब उड़ जाते हैं
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
दुआ पर लिखे अशआर
दुआ पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
प्रेम जीवन धन गया।
प्रेम जीवन धन गया।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
Anil Mishra Prahari
प्रेम का प्रदर्शन, प्रेम का अपमान है...!
प्रेम का प्रदर्शन, प्रेम का अपमान है...!
Aarti sirsat
डबूले वाली चाय
डबूले वाली चाय
Shyam Sundar Subramanian
जीवन में सफलता पाने के लिए तीन गुरु जरूरी हैं:
जीवन में सफलता पाने के लिए तीन गुरु जरूरी हैं:
Sidhartha Mishra
* बच कर रहना पुष्प-हार, अभिनंदन वाले ख्यालों से 【हिंदी गजल/ग
* बच कर रहना पुष्प-हार, अभिनंदन वाले ख्यालों से 【हिंदी गजल/ग
Ravi Prakash
ये 'लोग' हैं!
ये 'लोग' हैं!
Srishty Bansal
*
*"ममता"* पार्ट-2
Radhakishan R. Mundhra
बच्चे का संदेश
बच्चे का संदेश
Anjali Choubey
हर कोरे कागज का जीवंत अल्फ़ाज़ बनना है मुझे,
हर कोरे कागज का जीवंत अल्फ़ाज़ बनना है मुझे,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
बहुत
बहुत
sushil sarna
जिंदगी की किताब
जिंदगी की किताब
Surinder blackpen
कर न चर्चा हसीन ख्वाबों का।
कर न चर्चा हसीन ख्वाबों का।
सत्य कुमार प्रेमी
पढ़ो और पढ़ाओ
पढ़ो और पढ़ाओ
VINOD CHAUHAN
🥀*अज्ञानी की कलम*🥀
🥀*अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
बहुत से लोग आएंगे तेरी महफ़िल में पर
बहुत से लोग आएंगे तेरी महफ़िल में पर "कश्यप"।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
गर भिन्नता स्वीकार ना हो
गर भिन्नता स्वीकार ना हो
AJAY AMITABH SUMAN
ये सिलसिले ऐसे
ये सिलसिले ऐसे
Dr. Kishan tandon kranti
मैं हूं न ....@
मैं हूं न ....@
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
पैसा
पैसा
Sanjay ' शून्य'
गम और खुशी।
गम और खुशी।
Taj Mohammad
हाइकु- शरद पूर्णिमा
हाइकु- शरद पूर्णिमा
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
2549.पूर्णिका
2549.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
Loading...