Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Feb 2024 · 1 min read

मेरा लड्डू गोपाल

मेरा लड्डू गोपाल कितना प्यारा है
क्या बताऊँ💐💐😊
एक दिन की बात बताऊँ….
इतना नटखट ,इतना प्यारा
मेरा कृष्ण कन्हैया…
भोग में खिलाने को कुछ
घर में ना था….मन इतना बैचेन था
क्या करूं……
क्या खिलाऊँ… अपने कृष्णा को…
तो सोचा आज चीनी और मलाई
खिला दु…
जब मैं छोटी थी तो मेरी माँ मुझे यही देती थी…
तो मैंने यही कान्हा जी को खिलाने को
अपने पति को बोला….
वो भी कहा कम है….
उन्होंने सोचा थोड़ी देर में खिलाऊँगा….
बस फिर क्या था …..
चीनी मलाई की कटोरी गिर गई ☺️☺️☺️☺️☺️
और मेरा लड्डू गोपाल …..चीनी मलाई में नहा गया….
मेरी हँसी न रुक रही थी
की लड़डू को भी चीनी मलाई अच्छी लगती हैं।
हैना मेरा लड़डू कितना प्यारा 💐💐💐💐

Language: Hindi
37 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नीला अम्बर नील सरोवर
नीला अम्बर नील सरोवर
डॉ. शिव लहरी
जाग गया है हिन्दुस्तान
जाग गया है हिन्दुस्तान
Bodhisatva kastooriya
सफलता का एक ही राज ईमानदारी, मेहनत और करो प्रयास
सफलता का एक ही राज ईमानदारी, मेहनत और करो प्रयास
Ashish shukla
समझ
समझ
Shyam Sundar Subramanian
चुका न पाएगा कभी,
चुका न पाएगा कभी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मसरूफियत बढ़ गई है
मसरूफियत बढ़ गई है
Harminder Kaur
शब्द -शब्द था बोलता,
शब्द -शब्द था बोलता,
sushil sarna
गाय
गाय
Vedha Singh
जीना सीख लिया
जीना सीख लिया
Anju ( Ojhal )
जिन्दा रहे यह प्यार- सौहार्द, अपने हिंदुस्तान में
जिन्दा रहे यह प्यार- सौहार्द, अपने हिंदुस्तान में
gurudeenverma198
2447.पूर्णिका
2447.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
पेंशन प्रकरणों में देरी, लापरवाही, संवेदनशीलता नहीं रखने बाल
पेंशन प्रकरणों में देरी, लापरवाही, संवेदनशीलता नहीं रखने बाल
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
💐प्रेम कौतुक-448💐
💐प्रेम कौतुक-448💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*सच्चाई यह जानिए, जीवन दुःख-प्रधान (कुंडलिया)*
*सच्चाई यह जानिए, जीवन दुःख-प्रधान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ज़िंदगी को
ज़िंदगी को
Dr fauzia Naseem shad
कहानी-
कहानी- "हाजरा का बुर्क़ा ढीला है"
Dr Tabassum Jahan
ये बेकरारी, बेखुदी
ये बेकरारी, बेखुदी
हिमांशु Kulshrestha
बच्चों के साथ बच्चा बन जाना,
बच्चों के साथ बच्चा बन जाना,
लक्ष्मी सिंह
कौन यहाँ पढ़ने वाला है
कौन यहाँ पढ़ने वाला है
Shweta Soni
-अपनी कैसे चलातें
-अपनी कैसे चलातें
Seema gupta,Alwar
स्त्री चेतन
स्त्री चेतन
Astuti Kumari
शेखर सिंह
शेखर सिंह
शेखर सिंह
जय महादेव
जय महादेव
Shaily
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
"अगर"
Dr. Kishan tandon kranti
అమ్మా తల్లి బతుకమ్మ
అమ్మా తల్లి బతుకమ్మ
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
कौसानी की सैर
कौसानी की सैर
नवीन जोशी 'नवल'
रिश्ता
रिश्ता
अखिलेश 'अखिल'
मां चंद्रघंटा
मां चंद्रघंटा
Mukesh Kumar Sonkar
Loading...