Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Dec 2023 · 1 min read

मुझसे जुदा होने से पहले, लौटा दे मेरा प्यार वह मुझको


मुझसे जुदा होने से पहले।
लौटा दे मेरा प्यार वह मुझको।।
तुमको खुशी जो दी थी मैंने।
लौटा दे मेरी खुशी वह मुझको।।
मुझसे जुदा होने ——————-।।

जोड़ लिया है तुमने, रिश्ता नया क्यों।
थाम लिया है तुमने, दामन नया क्यों।।
लेकिन पहले क्यों की, मुझसे मोहब्बत।
लौटा दे मेरा वह चैन, अब तू मुझको।।
मुझसे जुदा होने ———————।।

आँसू मेरी जिंदगी में, तू ऐसे भरकर।
खुशियाँ तेरे दामन में, तू ऐसे भरकर।।
जी रही है तू अब, बहुत चैनो- सुकून से।
लौटा दे मेरा वह सुख, अब तू मुझको।।
मुझसे जुदा होने ———————-।।

तोड़ दिया है तुमने तो, विश्वास मेरा।
कर दिया है बर्बाद, तुमने तो घर मेरा।।
मेरे चमन को तुमने, ऐसे क्यों उजाड़ा।
लौटा दे मेरा वह ख्वाब, अब तू मुझको।।
मुझसे जुदा होने ———————–।।

शिक्षक एवं साहित्यकार
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)

Language: Hindi
Tag: गीत
170 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पराठों का स्वर्णिम इतिहास
पराठों का स्वर्णिम इतिहास
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
जब सब्र आ जाये तो....
जब सब्र आ जाये तो....
shabina. Naaz
असंतुष्ट और चुगलखोर व्यक्ति
असंतुष्ट और चुगलखोर व्यक्ति
Dr.Rashmi Mishra
"चाँद बीबी"
Dr. Kishan tandon kranti
पुरानी ज़ंजीर
पुरानी ज़ंजीर
Shekhar Chandra Mitra
***
*** " आधुनिकता के असर.......! " ***
VEDANTA PATEL
खालीपन
खालीपन
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
जीवन
जीवन
Mangilal 713
#मुक्तक
#मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
" मैं फिर उन गलियों से गुजरने चली हूँ "
Aarti sirsat
"दिल का हाल सुने दिल वाला"
Pushpraj Anant
किस्मत की लकीरें
किस्मत की लकीरें
umesh mehra
*.....उन्मुक्त जीवन......
*.....उन्मुक्त जीवन......
Naushaba Suriya
चमत्कार को नमस्कार
चमत्कार को नमस्कार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अपनी निगाह सौंप दे कुछ देर के लिए
अपनी निगाह सौंप दे कुछ देर के लिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*पुस्तक समीक्षा*
*पुस्तक समीक्षा*
Ravi Prakash
ग़ज़ल:- रोशनी देता है सूरज को शरारा करके...
ग़ज़ल:- रोशनी देता है सूरज को शरारा करके...
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
पद्मावती छंद
पद्मावती छंद
Subhash Singhai
वर्तमान सरकारों ने पुरातन ,
वर्तमान सरकारों ने पुरातन ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
गुरु
गुरु
Rashmi Sanjay
साइस और संस्कृति
साइस और संस्कृति
Bodhisatva kastooriya
कोरोना का संहार
कोरोना का संहार
Dr. Pradeep Kumar Sharma
महोब्बत का खेल
महोब्बत का खेल
Anil chobisa
हरे भरे खेत
हरे भरे खेत
जगदीश लववंशी
2494.पूर्णिका
2494.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
अबीर ओ गुलाल में अब प्रेम की वो मस्ती नहीं मिलती,
अबीर ओ गुलाल में अब प्रेम की वो मस्ती नहीं मिलती,
इंजी. संजय श्रीवास्तव
तोहमतें,रूसवाईयाँ तंज़ और तन्हाईयाँ
तोहमतें,रूसवाईयाँ तंज़ और तन्हाईयाँ
Shweta Soni
ये 'लोग' हैं!
ये 'लोग' हैं!
Srishty Bansal
अहिल्या
अहिल्या
अनूप अम्बर
शबे- फित्ना
शबे- फित्ना
मनोज कुमार
Loading...