Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Feb 2017 · 1 min read

मुक्तक:

आंधियों में उड़ गया था, आज वापस आ गाया हूं.
साख से बिछडा हुआ था, साख वापस पा गया हूँ.
बहुत दिन से था परेशां, पर नहीं भटका कहीं भी,
लाचार था हारा नहीं, जुल्मों पे यूँ अब छा गया हूँ.
@ डॉ.रघुनाथ मिश्र ‘सहज’ (कोटा)
अधिवक्ता/साहित्यकार
सर्वाधिकार सुरक्षित

Language: Hindi
1 Like · 355 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कौआ और कोयल ( दोस्ती )
कौआ और कोयल ( दोस्ती )
VINOD CHAUHAN
"दहेज"
Dr. Kishan tandon kranti
संवेदनाएं
संवेदनाएं
Buddha Prakash
पहले जैसा अब अपनापन नहीं रहा
पहले जैसा अब अपनापन नहीं रहा
Dr.Khedu Bharti
शेखर सिंह
शेखर सिंह
शेखर सिंह
🙅सोचो तो सही🙅
🙅सोचो तो सही🙅
*Author प्रणय प्रभात*
# होड़
# होड़
Dheerja Sharma
मुझे पतझड़ों की कहानियाँ,
मुझे पतझड़ों की कहानियाँ,
Dr Tabassum Jahan
प्रेम
प्रेम
Pratibha Pandey
मानसिक विकलांगता
मानसिक विकलांगता
Dr fauzia Naseem shad
मातृदिवस
मातृदिवस
Satish Srijan
पुस्तक तो पुस्तक रहा, पाठक हुए महान।
पुस्तक तो पुस्तक रहा, पाठक हुए महान।
Manoj Mahato
वासुदेव
वासुदेव
Bodhisatva kastooriya
जीवन दर्शन मेरी नज़र से. .
जीवन दर्शन मेरी नज़र से. .
Satya Prakash Sharma
*बताए मेरी गलती जो, उसे ईनाम देता हूँ (हिंदी गजल)*
*बताए मेरी गलती जो, उसे ईनाम देता हूँ (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
हथेली पर जो
हथेली पर जो
लक्ष्मी सिंह
नकलची बच्चा
नकलची बच्चा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
मुॅंह अपना इतना खोलिये
मुॅंह अपना इतना खोलिये
Paras Nath Jha
भ्रष्ट होने का कोई तय अथवा आब्जेक्टिव पैमाना नहीं है। एक नास
भ्रष्ट होने का कोई तय अथवा आब्जेक्टिव पैमाना नहीं है। एक नास
Dr MusafiR BaithA
नगमे अपने गाया कर
नगमे अपने गाया कर
Suryakant Dwivedi
@ranjeetkrshukla
@ranjeetkrshukla
Ranjeet Kumar Shukla
करगिल के वीर
करगिल के वीर
Shaily
*ऋषि नहीं वैज्ञानिक*
*ऋषि नहीं वैज्ञानिक*
Poonam Matia
श्री कृष्ण भजन
श्री कृष्ण भजन
Khaimsingh Saini
दोहे- अनुराग
दोहे- अनुराग
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Dr. Arun Kumar shastri
Dr. Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कान्हा भजन
कान्हा भजन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
माता- पिता
माता- पिता
Dr Archana Gupta
कभी भी व्यस्तता कहकर ,
कभी भी व्यस्तता कहकर ,
DrLakshman Jha Parimal
बेशक ! बसंत आने की, खुशी मनाया जाए
बेशक ! बसंत आने की, खुशी मनाया जाए
Keshav kishor Kumar
Loading...