Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jan 2024 · 1 min read

* मिल बढ़ो आगे *

** आगे निरन्तर **
~~
देश हित की जिन्दगी को सब जियो आगे निरन्तर,
मात कर सब संकटों को मिल बढ़ो आगे निरन्तर।

हाथ में थामें तिरंगा नित बढ़ें आगे कदम,
लक्ष्य सम्मुख है विजय का बढ़ चलो आगे निरन्तर।

खींच प्रत्यंचा धनुष की राम ने सागर किनारे,
शीश सिंधू का झुकाया मत झुको आगे निरन्तर।

देश के सब दुश्मनों को खाक में ही गाड़ दो तुम,
हाथ में तलवार थामे जय कहो आगे निरन्तर।

घूंट यूं अपमान के पीते रहे अब तक बहुत हम,
दासता के बांध को तोड़ो बहो आगे निरन्तर।

दिव्य गीता ज्ञान को अपना लिया जब जिन्दगी में,
मोह बंधन त्याग सब सेवा करो आगे निरन्तर।

हिम नदी सम उच्च शिखरों पर डटे हैं वीर सैनिक।
सीँचकर गंगा नदी को तुम गलो आगे निरन्तर।

शिथिलता को छोड़ कर गतिमान बनना है इसी क्षण,
साथ जो भी चल रहे हों तुम रहो आगे निरन्तर।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
-सुरेन्द्रपाल वैद्य।

1 Like · 1 Comment · 63 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from surenderpal vaidya
View all
You may also like:
"मुश्किल है मिलना"
Dr. Kishan tandon kranti
किसी की तारीफ़ करनी है तो..
किसी की तारीफ़ करनी है तो..
Brijpal Singh
~ हमारे रक्षक~
~ हमारे रक्षक~
करन ''केसरा''
कैसे भूले हिंदुस्तान ?
कैसे भूले हिंदुस्तान ?
Mukta Rashmi
कब मरा रावण
कब मरा रावण
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सकारात्मक सोच
सकारात्मक सोच
Dr fauzia Naseem shad
वाह क्या खूब है मौहब्बत में अदाकारी तेरी।
वाह क्या खूब है मौहब्बत में अदाकारी तेरी।
Phool gufran
विदंबना
विदंबना
Bodhisatva kastooriya
मेरे प्रभु राम आए हैं
मेरे प्रभु राम आए हैं
PRATIBHA ARYA (प्रतिभा आर्य )
एतबार इस जमाने में अब आसान नहीं रहा,
एतबार इस जमाने में अब आसान नहीं रहा,
manjula chauhan
" हैं पलाश इठलाये "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
जीवन एक संघर्ष
जीवन एक संघर्ष
AMRESH KUMAR VERMA
एक सरकारी सेवक की बेमिसाल कर्मठता / MUSAFIR BAITHA
एक सरकारी सेवक की बेमिसाल कर्मठता / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
मुफ़लिसों को बांटिए खुशियां खुशी से।
मुफ़लिसों को बांटिए खुशियां खुशी से।
सत्य कुमार प्रेमी
पलक-पाँवड़े
पलक-पाँवड़े
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
देखें हम भी उस सूरत को
देखें हम भी उस सूरत को
gurudeenverma198
*कहर  है हीरा*
*कहर है हीरा*
Kshma Urmila
मालिक मेरे करना सहारा ।
मालिक मेरे करना सहारा ।
Buddha Prakash
बहके जो कोई तो संभाल लेना
बहके जो कोई तो संभाल लेना
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
कवि दीपक बवेजा
जरुरी है बहुत जिंदगी में इश्क मगर,
जरुरी है बहुत जिंदगी में इश्क मगर,
शेखर सिंह
3095.*पूर्णिका*
3095.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मेरे जैसा
मेरे जैसा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मेरा कल! कैसा है रे तू
मेरा कल! कैसा है रे तू
Arun Prasad
*Colors Of Experience*
*Colors Of Experience*
Poonam Matia
डाकिया डाक लाया
डाकिया डाक लाया
Paras Nath Jha
बहन की रक्षा करना हमारा कर्तव्य ही नहीं बल्कि धर्म भी है, पर
बहन की रक्षा करना हमारा कर्तव्य ही नहीं बल्कि धर्म भी है, पर
जय लगन कुमार हैप्पी
" कटु सत्य "
DrLakshman Jha Parimal
आधा - आधा
आधा - आधा
Shaily
"कोरोना बम से ज़्यादा दोषी हैं दस्ता,
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...