Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 8, 2022 · 1 min read

मातृ रूप

तुम ममता की मूरत मैया
तू जननी, जाया है,
तेरे आँचल की छांँव में
हमने जन्नत पाया है।
विविध रूप में माता तुम
इस जग की स्रष्टा हो,
तुम गुरु, वैद्य, जीवनदाता
तुम ही पालनकर्ता हो।
नारी रूप में नर को जनती
अवनि रूप में भोजन देती,
गौ रूप जग पालन करती
अन्य रूप दुख दारिद्र्य को हरती।
हम क्या मोल चुकाते इनका
पल भर चैन न पाती तुम,
तेरे सीने चीर चीर कर
अपनी तिजोरी भरते हम।
पर सोचो, अगली पीढ़ी क्या
सुख चैन का जीवन पाएगी?
बिना संतुलित विकास नीति के
धरा मातृ रूप रह पाएगी?

(मौलिक व स्वरचित)
श्री रमण
बेगूसराय (बिहार)

6 Likes · 10 Comments · 189 Views
You may also like:
तो क्या होगा?
Shekhar Chandra Mitra
ज़िंदगी।
Taj Mohammad
✍️गर्व करो अपना यही हिंदुस्थान है✍️
"अशांत" शेखर
💐💐प्रेम की राह पर-21💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मिसाइल मैन
Anamika Singh
कर्ण और दुर्योधन की पहली मुलाकात
AJAY AMITABH SUMAN
✍️✍️लफ्ज़✍️✍️
"अशांत" शेखर
बंदर भैया
Buddha Prakash
मुझे धोखेबाज न बनाना।
Anamika Singh
आकार ले रही हूं।
Taj Mohammad
ભીની ભીની લાગણી.....
Dr. Alpa H. Amin
कौन थाम लेता है ?
DESH RAJ
गम आ मिले।
Taj Mohammad
वक्त का खेल
AMRESH KUMAR VERMA
हमारी मां हमारी शक्ति ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
✍️बात मुख़्तसर बदल जायेगी✍️
"अशांत" शेखर
आदमी की आवाज हैं नागार्जुन
Ravi Prakash
यह कौन सा विधान है
Vishnu Prasad 'panchotiya'
एक वीरांगना का अन्त !
Prabhudayal Raniwal
.✍️कबीर-मुर्शिद मेरा✍️
"अशांत" शेखर
चौकड़िया छंद / ईसुरी छंद , विधान उदाहरण सहित ,...
Subhash Singhai
आकर मेरे ख्वाबों में, पर वे कहते कुछ नहीं
Ram Krishan Rastogi
खुशबू चमन की किसको अच्छी नहीं लगती।
Taj Mohammad
✍️थोडा रूमानी हो जाते...✍️
"अशांत" शेखर
शायद...
Dr. Alpa H. Amin
माखन चोर
N.ksahu0007@writer
मेरी हस्ती
Anamika Singh
तीन किताबें
Buddha Prakash
✍️स्टेचू✍️
"अशांत" शेखर
✍️ग़लतफ़हमी✍️
"अशांत" शेखर
Loading...