Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Nov 2022 · 1 min read

मां

आज फिर से याद आई मां,
मेरी जन्म होने पर होगी मुस्कुराई मां ।

छोड़ गई अपने बेटे को,
तेरे बिन कैसे रह पाई मां।।

बिन मां की ममता हो जग सुना,
अब केसे दुःख सुनाई मां।

है बड़ी उलझन सी मेरी दिल,
क्यू छोड़ कर तू गई मां।।

कर नही पाता किसी से दिल की बातें,
केसे प्रीत लगाईं मां।

तू रहती तो करूं मैं तुझे दिल की बातें,
है वजह यही तू याद आई मां ।।

142 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
गांधी के साथ हैं हम लोग
गांधी के साथ हैं हम लोग
Shekhar Chandra Mitra
हर बला से दूर रखता,
हर बला से दूर रखता,
Satish Srijan
LOVE
LOVE
SURYA PRAKASH SHARMA
दूर देदो पास मत दो
दूर देदो पास मत दो
Ajad Mandori
you don’t need a certain number of friends, you just need a
you don’t need a certain number of friends, you just need a
पूर्वार्थ
ग़ज़ल:- तेरे सम्मान की ख़ातिर ग़ज़ल कहना पड़ेगी अब...
ग़ज़ल:- तेरे सम्मान की ख़ातिर ग़ज़ल कहना पड़ेगी अब...
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
इंसान VS महान
इंसान VS महान
Dr MusafiR BaithA
“बदलते भारत की तस्वीर”
“बदलते भारत की तस्वीर”
पंकज कुमार कर्ण
हाय वो बचपन कहाँ खो गया
हाय वो बचपन कहाँ खो गया
VINOD CHAUHAN
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
SPK Sachin Lodhi
दिल को एक बहाना होगा - Desert Fellow Rakesh Yadav
दिल को एक बहाना होगा - Desert Fellow Rakesh Yadav
Desert fellow Rakesh
Thinking
Thinking
Neeraj Agarwal
पूजा
पूजा
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
देश हमर अछि श्रेष्ठ जगत मे ,सबकेँ अछि सम्मान एतय !
DrLakshman Jha Parimal
■
■ "टेगासुर" के कज़न्स। 😊😊
*प्रणय प्रभात*
"मैं आग हूँ"
Dr. Kishan tandon kranti
सोच
सोच
Shyam Sundar Subramanian
जिसके पास क्रोध है,
जिसके पास क्रोध है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
सूर्यदेव
सूर्यदेव
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
3294.*पूर्णिका*
3294.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
संवेदना -जीवन का क्रम
संवेदना -जीवन का क्रम
Rekha Drolia
मेरी तो धड़कनें भी
मेरी तो धड़कनें भी
हिमांशु Kulshrestha
* विजयदशमी *
* विजयदशमी *
surenderpal vaidya
हमनवा
हमनवा
Bodhisatva kastooriya
सितमज़रीफी किस्मत की
सितमज़रीफी किस्मत की
Shweta Soni
*
*"मुस्कराने की वजह सिर्फ तुम्हीं हो"*
Shashi kala vyas
अपने आसपास
अपने आसपास "काम करने" वालों की कद्र करना सीखें...
Radhakishan R. Mundhra
नींद और ख्वाब
नींद और ख्वाब
Surinder blackpen
*घर आँगन सूना - सूना सा*
*घर आँगन सूना - सूना सा*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जल प्रवाह सा बहता जाऊँ।
जल प्रवाह सा बहता जाऊँ।
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Loading...