Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Apr 2018 · 1 min read

माँ

गिरते ही धरा पर, झट उठाती है माँ
छिपा आँचल में सीने से लगाती है माँ

बाहों के झूले में झुलाती है माँ
थाम उंगली पग-पग चलाती है माँ

गिरकर फिर सम्भलना सिखाती है माँ
अच्छा क्या, बुरा क्या है ये बताती है माँ

गा गाकर तुझे लोरियां, सुलाती है माँ
पल पल ममता का सागर लुटाती है माँ

देख मुस्कुराते तुझको, मुसकाती है माँ
तेरे दर्द पे आंसू बहाती है माँ

शैतानियों में तेरी डांट लगाती है माँ
फिर से प्यार से बालों को सहलाती है माँ

अपने हिस्से की रोटी तुझे खिलाती है माँ
खुद पानी पीकर ही सो जाती है माँ

. ***

ज्ञान-ध्यान, हवन-पूजन नित नए सृजन कराती माँ
आंच न तुझको आने पाए निज तन को झुलसाती माँ
स्वार्थपरक इस कलिकाल में, सर्वस्व समर्पण भाव लिये
शक्तिपुंज , ममता की मूरत , यूँ ही नहीं कहाती माँ

**************************************

. – “हरवंश श्रीवास्तव”

1 Like · 718 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
राम राज्य
राम राज्य
Shashi Mahajan
इश्क़ लिखने पढ़ने में उलझ गया,
इश्क़ लिखने पढ़ने में उलझ गया,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*जो मिले भाग्य से जीवन में, वरदान समझ कर स्वीकारो (राधेश्याम
*जो मिले भाग्य से जीवन में, वरदान समझ कर स्वीकारो (राधेश्याम
Ravi Prakash
-- नसीहत --
-- नसीहत --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
गरीबों की झोपड़ी बेमोल अब भी बिक रही / निर्धनों की झोपड़ी में सुप्त हिंदुस्तान है
गरीबों की झोपड़ी बेमोल अब भी बिक रही / निर्धनों की झोपड़ी में सुप्त हिंदुस्तान है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चंदा मामा और चंद्रयान
चंदा मामा और चंद्रयान
Ram Krishan Rastogi
खुदा किसी को किसी पर फ़िदा ना करें
खुदा किसी को किसी पर फ़िदा ना करें
$úDhÁ MãÚ₹Yá
"दो कदम दूर"
Dr. Kishan tandon kranti
यूँ तो समन्दर में कभी गोते लगाया करते थे हम
यूँ तो समन्दर में कभी गोते लगाया करते थे हम
The_dk_poetry
याद
याद
Kanchan Khanna
करीब हो तुम किसी के भी,
करीब हो तुम किसी के भी,
manjula chauhan
समय बदल रहा है..
समय बदल रहा है..
ओनिका सेतिया 'अनु '
"जीवन का गूढ़ रहस्य"
Ajit Kumar "Karn"
शेखर ✍️
शेखर ✍️
शेखर सिंह
ये ज़िंदगी एक अजीब कहानी है !!
ये ज़िंदगी एक अजीब कहानी है !!
Rachana
माँ का आशीर्वाद पकयें
माँ का आशीर्वाद पकयें
Pratibha Pandey
जय माँ दुर्गा देवी,मैया जय अंबे देवी...
जय माँ दुर्गा देवी,मैया जय अंबे देवी...
Harminder Kaur
असली पंडित नकली पंडित / MUSAFIR BAITHA
असली पंडित नकली पंडित / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
!! हे लोकतंत्र !!
!! हे लोकतंत्र !!
Akash Yadav
नारी जाति को समर्पित
नारी जाति को समर्पित
Juhi Grover
IPL के दौरान हार्दिक पांड्या को बुरा भला कहने वाले आज HERO ब
IPL के दौरान हार्दिक पांड्या को बुरा भला कहने वाले आज HERO ब
पूर्वार्थ
*आत्महत्या*
*आत्महत्या*
आकांक्षा राय
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
मेहनती को, नाराज नही होने दूंगा।
मेहनती को, नाराज नही होने दूंगा।
पंकज कुमार कर्ण
#दोहा-
#दोहा-
*प्रणय प्रभात*
विविध विषय आधारित कुंडलियां
विविध विषय आधारित कुंडलियां
नाथ सोनांचली
सेवा जोहार
सेवा जोहार
नेताम आर सी
अर्थहीन हो गई पंक्तियां कविताओं में धार कहां है।
अर्थहीन हो गई पंक्तियां कविताओं में धार कहां है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
2827. *पूर्णिका*
2827. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...